Published On : Thu, Mar 25th, 2021

कोरोना की दूसरी लहर ज्यादा खतरनाक, 25 लाख लोग हो सकते हैं संक्रमित

अप्रैल-मई में आएगा पीक

देश में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है. इस बीच भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की एक रिसर्च रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में कोरोना की दूसरी लहर 100 दिनों तक चल सकती है. 15 फरवरी से शुरू हुई ये लहर मई तक चल सकती है.

इस लहर के चलते देश में कुल कोरोना मामलों की संख्या 25 लाख पहुंचने की उम्मीद है. पहली लहर के मुकाबले कोरोना की दूसरी लहर में केस तेजी से बढ़ेंगे. रिपोर्ट में कहा गया कि भारत में फरवरी से कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर देखी जा रही है. कोरोना के नए मामले और रोजाना टेस्ट फिर से बढ़ रहे हैं. SBI के आर्थिक अनुसंधान विभाग द्वारा तैयार इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि आने वाले अप्रैल-मई के महीने में कोरोना की दूसरी लहर चरम पर होगी.

SBI की रिसर्च रिपोर्ट के मुताबिक, 23 मार्च के ट्रेंड को आधार मानकर बात करें, तो देश में कोरोना की दूसरी लहर से करीब 25 लाख से अधिक लोग कोरोना संक्रमित हो सकते हैं. रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि लोकल लेवल पर संक्रमण और मृत्यु दर में वृद्धि को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन का कोई खास असर नहीं दिखा. महाराष्ट्र और पंजाब जैसे राज्य इसके उदाहरण हैं.

हालांकि, रिपोर्ट में ये भी कहा गया कि कई राज्यों द्वारा संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन और प्रतिबंध लगाने का असर अगले महीने से दिखना शुरू हो सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक, आजीविका चलाने के लिए और बीमारी के संदर्भ में प्रतिबंध और लॉकडाउन के कारण होने वाले नुकसान बहुत गंभीर हैं. बड़े स्तर पर कोरोना टीकाकरण ही बचाव का एकमात्र उपाय है.