| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Jul 6th, 2019

    नासुप्र भंग पर १४ अगस्त को निकलेंगा अध्यादेश

    मुख्यमंत्री की बैठक में लिया गया निर्णय

    नागपुर : शहर में 2 नियोजन प्राधिकरण होने के चलते नागपुर सुधार प्रन्यास को भंग करने की मांग लंबे समय से उठती रही है. अब सरकार ने इस पर निर्णय ले लिया है. अगले महीने नागपुर सुधार प्रन्यास का मनपा के साथ विलीनीकरण कर दिया जाएगा. इसका जीआर 14 अगस्त तक सरकार द्वारा निकाल दिया जाएगा. यह निर्णय मुख्यमंत्री ने एक बैठक में लिया.

    बैठक में पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, नगर विकास राज्यमंत्री योगेश सागर, नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव नितिन करीर, सचिव मनीषा म्हैसकर, महापौर नंदा जिचकार, मिलिंद माने, नागपुर सुधार प्रन्यास सभापति शीतल उगले, मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर उपस्थित थे.

    उल्लेखनीय यह हैं कि नागपुर सुधार प्रन्यास की जितनी भी सम्पत्ति शहर में है, वह मनपा को हस्तांतरित हो जाएगी. इसके लिए नागपुर सुधार प्रन्यास सभापति और मनपा आयुक्त के बीच करार होगा. इतना ही नहीं, नागपुर सुधार प्रन्यास के ऐसे प्रकरण जो न्यायप्रविष्ट हैं, वे भी मनपा को हस्तांतरित किए जाएंगे. केवल एनआईटी की मुख्य प्रशासकीय इमारत को छोड़कर सारी प्रापर्टी मनपा को सौंप दी जाएगी.

    कर्मचारी व अधिकारी मनपा या फिर एनएमआरडीए में समायोजित किए जाएंगे. नागपुर सुधार प्रन्यास को बर्खास्त कर मनपा में विलीन करने की मांग काफी पुरानी थी. मांग के अनुसार अब मुख्यमंत्री ने यह निर्णय लिया है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145