Published On : Wed, Nov 16th, 2016

राष्ट्रवादी काँग्रेस प्रवक्ता अतुल लोंडे ने थामा काँग्रेस का हाँथ

Advertisement

atul-londe

मुंबई/नागपुर : स्थानीय निकाय चुनाव से ठीक पहले नागपुर में राष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी को नागपुर में बड़ा झटका लगा है। शहर से पार्टी के नेता और राज्य के प्रवक्ता अतुल लोंडे ने पार्टी को बाय-बाय कह काँग्रेस का दामन थाम लिया है। अतुल लोंडे ने मुंबई में काँग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी और प्रदेशाध्यक्ष अशोक चौहान की मौजूदगी में पार्टी में प्रवेश लिया। काँग्रेस में औपचारिक ऐलान के बाद लोंडे ने राहुल गाँधी से मुलाकात भी की।

अतुल लोंडे का काँग्रेस में अचानक प्रवेश चौकाने वाला है। संघ के गढ़ नागपुर से वो राष्ट्रवादी पार्टी का चेहरा थे और कई बार कई मसलो पर मुश्किल में पड़ी पार्टी का पक्ष रखने की जिम्मेदारी उनपर थी। अतुल ने काँग्रेस प्रेम की और राष्ट्रवादी से नाराजगी पर खुल कर तो कुछ नहीं कहाँ पर उनके मुताबिक वो मौजूदा दौर में काँग्रेस की राजनितिक लाइन से बेहद प्रभावित है। उनके मुताबिक मौजूदा वक्त में संघ और बीजेपी की विचारधारा को टक्कर सिर्फ काँग्रेस दे सकती है और यही पार्टी नई वैकल्पिक राजनीति को आगे लेकर जा सकती है इसी लिए उन्होंने काँग्रेस में प्रवेश लिया है।

Advertisement

राष्ट्वादी पार्टी के प्रवक्ता होने के नाते लोंडे अपनी पिछली पार्टी में गुटबाजी के बीच भी सबको साथ लेकर चलते थे। उनके मिलनसार स्वभाव की वजह से अन्य दलों के नेताओं से अच्छे संबंध थे। काँग्रेस के नेताओं से उनका मेलमिलाप सामान्य ही था। पर उनके इस अचानक फैसले से राका भी सकते में है क्योंकि उनके स्थानीय नेताओं के साथ साथ राष्ट्रवादी के वरिष्ठ नेताओ से भी अच्छे संबंध थे। लोंडे ने ऐन मनपा चुनाव के समय पला बदला है वो काँग्रेस में जरूर आये है पर यहाँ भी सब कुछ ऑल वेल नहीं ही है पार्टी की आतंरिक गुटबाजी सार्वजनिक है । देखना दिलचस्प होगा की उनके इस फैसले से काँग्रेस को और उन्हें खुद कितना फायदा भविष्य में होता है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement