| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Jun 10th, 2019

    डांस बार के गोरखधंधे का नया अड्डा बनता जा रहा है नागपुर

    नागपुर शहर और ग्रामीण में चल रहा है आर्केष्ट्रा की आड़ में डांस बार
    नागपुर टुडे स्पेशल रिपोर्ट

    Dance bar

    File Pic

    पिछले कुछ माह से सोशल मिडिया पर कुछ डांस बार के वीडियो काफी वाईरल हो रहे हैं. ये वीडियो कभी नागपुर के शहर भागों से या कभी ग्रामीण इलाकों से खास तौर से किसी फ़ार्म हाऊस के बताये जा रहे हैं. वीडियो की सच्चाई जानने की कोशिश की जाती है तब आला अधिकारी कैमरे के सामने बात करने से टाल देते हैं. लेकिन लगातार आते वीडियो से एक बार फिर नागपुर डाँस बार का अड्डा बनते दिखाई दे रहा है.

    हाल ही में नागपुर ग्रामीण के बुट्टीबोरी से एक बड़े आलिशान आर्केष्ट्रा बार में से बार बाला के डांस का सीसीटीवी का वीडियो लिक हुआ है. सूत्र बताते हैं कि यह वीडियो 3 मार्च 2019 का है. किसी प्रतिद्विंद्वी की साजिश के तहत यह सीसीटीवी वीडियो लिक होने की जानकारी सामने आ रही है. ग्रामीण पुलिस जानकारी देने से बच रही है. वाईरल वीडियो में आर्केष्ट्रा के नाम पर डांस बार कैसे चलाया जाता है यह साफ़ दिखाई दे रहा है.

    हाल ही में मानेवाड़ा रोड पर एक नेता का आर्केष्ट्रा बार शुरू हुआ है. इस बार में भी आर्केष्ट्रा के नाम पर लड़कियों से डांस करवाए जाने की बाते सामने आते रहती है. इस बार का भी वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो है लेकिन अब तक इसकी पुष्टि होना बाकी है. इधर नागपुर के शौकीन ग्रहकों को भी दूसरे महानगरों में जाने की जरूरत नहीं पड़ती है. इसके कारण दलाल तथा बार मालिकों की जेब भी भर जाती है. बता दें कि नागपुर शहर में सुगम संगीत की आड़ में आर्केष्ट्रा डांस बार के संचालन को पिछले कुछ सालों से नागपुर क्राईम ब्रांच तथा स्थानिक डीसीपी ने छापा मार कारवाई के दौरान उजागर भी किया था.

    हमेशा विवादित रहे सीए रोड के मदिरा बार में अपराधियों का तांता लगा रहता है. इस बार में खुले तौर पर कुछ ख़ास ग्राहकों के लिए डांस करवाया जाता है. कुछ साल पहले गणेशपेठ पुलिस ने ईस बार को घेरकर छापा मार कारवाई की थी तब इस बार में 4 बार बाला छपड़ी थी. उन बार बालाओं ने गणेशपेठ पुलिस के सामने वीडियो बयान भी दिया था जो मामला आज भी कोर्ट में विचाराधीन है. उसके बाद भी इस बार का लाइसेंस रद्द नहीं किया गया है. इस बार में ख़ुफ़िया रास्ता भी बना है. समूचे बिल्डिंग में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. यहां किसी भी नए ग्राहक को एंट्री नहीं दी जाती. पुलिस आते ही बार में बैठे मैनेजर तथा मालिक को कैमरे में दिख जाता है तब तक बार बालाओं को खुफिया दरवाजे में छुपाया जाता है. यदि कोई बड़ा व्यापारी आता है तब बार रूम में लगा कैमरा बंद कर दिया जाता है और फिर रंगीन लाइटिंग के बीच डांस कर जलवे बिखरे जाते हैं. ग्राहक शराब पीकर इतने मदहोश हो जाते हैं कि बार बालाओं पर कुछ घंटो में लाखों रुपये उड़ा देते हैं. इस बार में कुछ एमडी ड्रग्स माफिया का भी जमावड़ा लगा रहता है.

    आज कल एक गैंगस्टर भी दलाली की भूमिका में काम करते नजर आ रहा है. कुछ व्यापारी तथा आपरधिक तत्वों को लेकर कभी नागपुर ग्रामीण स्थित धापेवाड़ा ,गोंडखैरी ,बुट्टीबोरी ,कलमना स्थित तथा कामठी रोड, सीए रोड स्थित आर्केस्ट्रा बार में लेकर जाता है और साथवालों को दारू पिलाकर मधहोश कर देता है. फिर गानों पर लाखों रुपये उड़ाने पर उकसाता है. इतना ही नहीं थोड़ी देर में आर्केष्ट्रा बार यह डांस बार में रूपांतर हो जाता है. साथवालों को लड़कियों के साथ डांस करवाता है और नशे में धुत व्यापारी से लाखों रुपये उड़ा ने के लिए उकसाते रहता है. इसके लिए गैंगस्टर को कमिशन के तौर पर 30 % मिलता है. आज कल यह गैंगस्टर काफी चर्चा में है.

    सीए रोड के मदिरा बार के अलावा नागपुर में कामठी रोड स्थित वेल कम बार , कलमना स्थित सरजा बार , पायल बार ,दिघोरी स्थित ग्रीन बार , मानेवाड़ा स्थित आर आर बार ,जगनाड़े चौक स्थित संग्राम बार, हिंगना मोंडा स्थित आदित्य बार में सुगम संगीत लाइसेंस के तहत आर्केष्ट्रा चलाया जाता है. कुछ विशेष ग्राहकों के लिए इनमें से कुछ बार मालिक तथा मैनेजर छुपके से आर्केष्ट्रा बार का रूपांतर डांस बार में कर देते हैं. तब बार रूम में लगे कैमरे बंद कर दिए जाते है. पिछले साल धंतोली स्थित निडोज बार तथा एमआयडीसी स्थित यस पब आर्केष्ट्रा बार का लाइसेंस पुलिस आयुक्त के तरफ से रद्द किया गया है.

    इन आर्केष्ट्रा बारों में से कुछ पर नागपुर पुलिस ने पिछले साल छापा मार कारवाई की थी. कारवाई के बाद कुछ दिन आर्केष्ट्रा बार बंद रहे फिर कुछ माह बाद फिर से आर्केष्ट्रा के नाम से डांस बार शुरू हुए हैं. कभी कभी नागपुर पुलिस ने छापा मार कारवाई की योजना बनाई लेकिन छापा गिरने के पाहिले ही बार मालिकों को पता चल जाता था की आज अपने बार में रेड हो सकती है तो उस दिन बार मालिक डांस शो करवाता नहीं था. जिसके चलते पुलिस को खाली हात लौटना पड़ा. आज भी नागपुर पुलिस सूचना मिलते ही दाबीश तो देती है लेकिन उनको खाली हाथ लौटना पड़ता है.

    इधर एक आर्केष्ट्रा बार मालिक ने अपना नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि इस धंदे में काफी कॉम्पिटिशन बढ़ चुका है. ग्राहकों को लुभाने के लिए नए नए तरीके अपनाना पड़ रहा है. ग्राहकों को यदि सुगम संगीत सुनाते बैठे थो धंदा मार खाता है. ग्राहक टूट जाते हैं. कुछ विशेष ग्राहकों के लिए कभी कबार डांस भी करवाना पड़ता है. नागपुर शहर फिलहाल एक हब बनते जा रहा है. काफी व्यापारी नागपुर रहते हैं और बहार के व्यापारी का आना जाना रहता है. कुछ रसूखदारों को रात के बार डांस बार की लत लग चुकी है. सिस्टम के हिसाब से दो पैसे कमाने के बाद सिस्टम में लगे हुए कर्मचारी अधिकारी को कुछ हफ्ता देना ही पड़ता है. आर्केष्ट्रा तथा डांस बार से किसी को तकलीफ तो नहीं होती लेकिन हमारे साथ नागपुर में काफी आर्केष्ट्रा बार शुरू हुए हैं. ग्राहकों को लुभाने के लिए जैसा हम प्रयास करते हैं तो वैसा ही प्रयास दूसरे भी आर्केष्ट्रा बार वाले मालिक करते रहते हैं. कभी कबार आर्केष्ट्रा बार में उतनी कमाई भी नहीं होती क्योंकि ग्राहक कभी एक जगह बार बार नहीं आता वह हर नए बार का तथा नए जगह का मजा लेते रहता है. जिसके चलते हर आर्केष्ट्रा बार मालिक महीने में सात आठ दिन नुक्सान में रहता है. जिसके चलते कॉम्पिटेशन में जलन खोरी होती है फिर एक मेक के आर्केष्ट्रा बार के खिलाफ षड्यंत्र रचा जाता है. इसमें बार मालिक कुछ मीडिया कर्मियों को डांस बार की वीडियो क्लिपिंग देकर अपना उल्लु सीधा कर लेते हैं. फिर मीडियाकर्मी अपना कर्तव्य करते हुवे प्रशाशन की पोल खोल देता है उसके बाद प्रशाशन हरकत में आकर आननफानन में खानपूर्ति के लिए कारवाई करती है. कुछ दिनों के बाद फिर से आर्केष्ट्रा बार शुरू हो जाता है बाद में उसका रूपांतर डांस बार में होता है. यह परंपरा कभी बंद नहीं होने का दावा किया जा रहा है.

    Trending In Nagpur
    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145