Published On : Wed, Jan 29th, 2020

गोंदिया में बंद बेअसर

सामान्य दिनों की तरह बाजार में चहल-पहल

गोंदिया : CAA, NRC, EVM का विरोध करते कई संगठनों द्वारा बुधवार २९ जनवरी को बुलाए गए भारत बंद का असर गोंदिया में बेअसर रहा।

Advertisement

गोंदिया को बंद कराने के लिए बहुजन क्रांति मोर्चा, वामपंथी संगठन व कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा एक दिन पूर्व मंगलवार २८ जनवरी को स्थानीय आंबेडकर चौक से नगरभ्रमण हेतु बाइक रैली निकाली गई थी, जो भ्रमण पश्‍चात गोंदिया तहसील कार्यालय पर पहुंची।

Advertisement

आज २९ जनवरी के सुबह आंबेडकर चौक पर धरना प्रदर्शन के लिए कई संगठनों के कार्यकर्ता इक्कठे हुए। रैली, भाषणबाजी के पश्‍चात गोंदिया उपविभागीय अधिकारी को CAA, NRC कानून तथा EVM के विरोध में एक ज्ञापन सौंपा।

बाजार, बैंक, स्कूल-कॉलेज, दफ्तर सभी खुले है
बहुजन क्रांति मोर्चा व अन्य संगठनों द्वारा भारत बंद की कॉल दिए जाने के बाद जिला पुलिस प्रशासन ने कानून व्यवस्था की बहाली हेतु कमर कसी तथा किसी भी अप्रिय घटना से निपटने हेतु शहर के प्रमुख चौराहों पर पुलिस का खासा बंदोबस्त बिठा दिया गया जिससे व्यापारियों के दिलों में मौजुद खौफ काफी हद तक खत्म हो गया और तय समय सुबह १० बजे से बाजार, बैंक, छबीगृह, पेट्रोलपंप, सब्जी मंडी, फ्रुट बाजार सभी धीरे-धीरे सामान्य दिनों की तरह खुलने लगे, हालांकि कुछ संगठनों के कार्यकर्ता जरूर सड़कों पर दिखायी दिए लेकिन उनके बंद की अपील बेअसर रही।
शासकीय-अर्धशासकीय दफ्तर के साथ-साथ होटल, ढाबे, टी स्टॉल, काफी हाऊस आम दिनों की तरह खुले हुए है और बाजार में चहलकदमी भी सामान्य दिनों की तरह जारी है।

बंद के खिलाफ व्यापारी हुए थे लामबंद
विभिन्न संगठनों के बुधवार २९ जनवरी के भारत बंद को देखते हुए सोशल मीडिया पर गोंदिया के व्यापारी संगठनों ने भी जबरदस्त मुहिम छेड़ी तथा कुछ व्यापारी संगठनों ने पॉम्पलेट बांटकर अपनी दुकानें नियमित रूप से खोलने का आव्हान कारोबारियों से किया था तथा किसी भी प्रकार की गड़बड़ी होने पर असामाजिक तत्वों के खिलाफ संबंधित थाने में शिकायत दर्ज कराने का आव्हान भी किया गया था।

इतना ही नहीं व्यापारियों ने सोशल मीडिया पर यह मुहिम भी चलायी थी कि, जो भी दुकानें जबरन बंद कराने का प्रयास करें, उनके चेहरे अपने मोबाइल के कैमरों में कैद कर लो, क्योंकि भविष्य में हुई तोड़फोड़ की शिकायत कानूनी तौर पर दर्ज कराने में इससे मदद मिलेगी। कमोवेशः इसी का असर रहा कि, गोंदिया में बंद बेअसर रहा और बाजार में व्यापार सामान्य दिनों की तरह जारी है।
रवि आर्य

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement