Published On : Tue, Nov 11th, 2014

उमरखेड़ : सार्वजनिक निर्माणकार्य विभाग की लापरवाही से सड़कें हुई जर्जर!


6 महीने पहले बनाई थी बोथा की सड़क, शिकायत की अनसुनी,  नये विधायक ध्यान दें

उमरखेड़। बोथा से मार्सुल तक की डामर रोड सार्वजनिक निर्माणकार्य अंतर्गत किया गया. जिसके बाद 6 महीनों में ही सड़क जर्जर हो जाने से की गई लीपापोती की कलई खुल गई. वहीं विभाग के पुसद व यवतमाल के कार्यों के हालात और भी बदतर होने से इसकी शिकायतें करने के बाद भी कोताही, अनियमितता व अनदेखी की गई.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सार्वजनिक निर्माणकार्य अंतर्गत उमरखेड़, पुसद, यवतमाल में डामर सड़क का निर्माण कार्य घटिया किए जाने की शिकायत विभाग को करने के बावजूद न ही शिकायत को अहमियत दी गई और न ही नियमों का पालन ही किया गया. फलतः निर्माण कार्य घटिया हुआ. इस सम्बन्ध में कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा शिकायत कर अनशन-आंदोलन किया गया, लेकिन किसी की एक न चली, जिससे लोगों में काफी रोष देखा जा रहा है. बता दें कि वर्षों से बोथा गाँव में सडकें नहीं होने से सड़क बनाने का काम अंततः सार्वजनिक निर्माणकार्य द्वारा किया गया लेकिन कुछ ही महीनों में सड़कें जर्जर हो गई. अब सार्वजनिक निर्माणकार्य विभाग के अभियंता व ठेकेदार की मिलीभगत होने की चर्चा की जा रही है. सवाल उठ रहे हैं कि क्या सार्वजनिक निर्माणकार्य विभाग की लापरवाही व कारगुजारियों पर गौर कर नव निर्वाचित विधायक लोगों की परेशनियों व शंकाओं को दूर करने का प्रयास करेंगे?

worst road

File pic