Published On : Wed, Nov 28th, 2018

नागपुर आरपीएफ ने मोबाइल चोर पकडे, आरोपी के पास से 8 मोबाइल किए जब्त

नागपुर: तीन दिन पहले आरपीएफ की टीम ने लोहा चोरी के आरोप में 3 लोगों को गिरफ्तार किया था. जिसके बाद उनसे पूछताछ करने पर वे यात्रियों का मोबाइल भी चुराते है ऐसा उन्होंने काबुल किया है. पूरी जानकारी के अनुसार इतवारी आरपीएफ थाने द्वारा लोहा चोरी के आरोप में 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. उस समय आरोपी के कब्जे से मालगाड़ी में लगने वाले लोहे के पार्ट्स जब्त किए गए थे जिसकी कीमत करीब 2500 रुपए थी.

इन तीन आरोपियों में से एक आशु, यशवंत वल्द पवन सिंह ठाकुर द्वारा पूछताछ की गई तो उसने ट्रेनों से यात्रियों का मोबाईल चुराने की बाते स्वेच्छया से कबुल की . आरोपी आशु की जांच हेतु 3 दिन का पीसीआर लिया गया था. उसने आरपीएफ को यह भी बताया की खुद का मोबाइल बताकर वह लोगों को चोरी के मोबाइल बेचता था. आज उसने उन लोगों के के नाम बताए तो उन खरीददारो से संपर्क कर उन्हें सच्चाई बताई गई. इन खरीददारों ने ऐस 8 नग मोबाइल आरोपी को वापस किए जिसकी कीमत 1,00,200 रुपए आकि गई है.

आरोपी को मोबाइल वापस करने पर आरोपी के कब्जे से आरपीएफ ने इन सभी 8 मोबाइल को जब्त किया. आज इस आरोपी को पीसीआर समाप्ति के पश्चात रेल न्यायालय के सामने प्रस्तुत करके जांच प्रगति की सूचना दी गई. आरोपी के वकील द्वारा आरोपी को जमानत देने का निवेदन भी किया गया. लेकिन रेल न्यायालय द्वारा आरोपी को सेंट्रल जेल नागपुर भेजने का आदेश देने से आरोपी को जेल भेजा गया.

यह कार्यवाही मोतीबाग के निरीक्षक गणेश गरकल के नेतृत्व में पीएसआई मोहम्मद मुगिसुद्दीन, पीएसआई चेवीन टेम्भूर्णिकर, एएसआई मोहनलाल एचसी के. अंसारी, प्रकाश रायसेड़ाम, राहुल सिंह नेवारे, कॉन्स्टेबल आरएस बागड़ेरिया, इशांत दिक्सित, प्रदीप गढ़व की टीम द्वारा यह कार्रवाई की गई.