Published On : Thu, Mar 26th, 2020

नागपुर में डोर टू डोर कोरोना सर्वे होगा, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 122 मरीज

Advertisement

कोरोना के संक्रमण के बीच नागपुर नगर निगम ने महत्वपूर्ण फैसला लिया है। निगमायुक्त तुकाराम मुंधे ने कहा कि हम 26 मार्च से शहर में डोर टू डोर कोरोना सर्वे करेंगे। ये देखेंगे कि कहीं कोरोना के क्लस्टर मरीज तो नहीं हैं। साथ ही देखा जाएगा कि क्या कोई क्वारंटीन का नियम तो नहीं तोड़ रहा है।

बता दें कि महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोरोना वायरस मरीज मिले हैं। यहां पीड़ितों की संख्या 122 पहुंच गई है। हालात के मद्देनजर राज्य में कर्फ्यू लगा दिया गया है। हालांकि कई जगहों पर इसका खुला उल्लंघन भी नजर आया है।

Advertisement

राज्य स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बुधवार को दर्ज किए गये 15 नए मामलों में 11 लोग विदेशों से लौटे रोगियों के संपर्क में आए थे जबकि चार अन्य ने विदेश यात्रा की थी। इनमें से सात संक्रमित व्यक्ति मुंबई से हैं, जबकि सांगली जिले से पांच और कल्याण-डोम्बीवली, नवी मुंबई तथा पनवेल से एक-एक व्यक्ति हैं।

इस बीच, अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित पुणे के एक दंपती को बुधवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई क्योंकि वे पूरी तरह से स्वस्थ हो गए थे।

राज्य में मुंबई में अब कोरोना वायरस मरीजों की संख्या बढ़ कर 48 हो गई है जबकि पुणे एवं पिंपरी चिंचवाड में 18 और 12 रोगी हैं।

राज्य में 18 जनवरी से 2988 लोगों को अस्पतालों के पृथक वार्डों में भर्ती कराया गया है जबकि अभी 932 लोग संदिग्ध संक्रमण को लेकर अस्पतालों में पृथक रखे गये हैं। वहीं, करीब 14,502 लोगों को घरों में पृथक रखा गया है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement