| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, Jan 6th, 2019

    सीसीटीवी से मिला चोरों का सुराग

    नागपुर: मौदा कि हिंडाल्को कम्पनी से यूएस एक्सपोर्ट करने के लिए भेजे गए एल्युमिनियम फाइल के लकड़े के बक्से बीच रास्ते में ही चोरी हो गए. बक्सों में रेती भरकर कॉनकोर में भेजे गए. अजनी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच आरंभ की. सीसीटीवी कैमरों की मदद से पुलिस को चोरों का सुराग ढूंढने में मदद मिली. पुलिस टीम ने दिल्ली जाकर 46 लाख रुपये का माल जब्त कर लिया, लेकिन आरोपी फिलहाल पुलिस के हाथ नहीं लगे है. पुलिस सरगर्मी से उनकी तलाश कर रही है. आरोपियों में ट्रक चालक सर्वतीकुमार पांडे, अप्पू सिंह और शोयब खान का समावेश है.

    विगत 14 दिसंबर को कम्पनी ने न्यूयॉर्क की आईएफसी इंटरनेशनल कम्पनी के लिए लकड़ी के 21 बॉक्स में 15,698 किलो एल्युमिनियम फॉइल कंटेनर में लोड कर नरेंद्रनगर स्थित इंडियन कंटेनर डिपो में भेजा था. वहां से कंटेनर विदेश भेजा जाना था. सभी बाक्स पर ‍विशेष प्रकार की सील लगाई जाती है.

    कंटेनर डिपो में तो पहुंच गया, लेकिन कस्टम विभाग के अधिकारियों ने मशीन से सील की जांच की तो गड़बड़ नजर आई. बाक्स खोलकर देखने पर उसमें केवल रेती दिखाई दी. अजनी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच आरंभ की. स्मार्ट सिटी सीसीटीवी कैमरों की मदद से पता लगा कि ट्रक खसाला गांव की तरफ गया था.

    दिल्ली में फर्जी बिल से बेचा गया था माल
    वहां जाकर जांच करने पर एक गोदाम में तिरपाल के नीचे 2 बाक्स का माल बरामद हुआ. वहां बाकी के बॉक्स का माल छोटे पिकअप वाहन में डालकर रवाना किया गया था. खबर मिली कि माल दिल्ली भेजा गया है. पुलिस ने ट्रांसपोर्टरों से पूछताछ कर दिल्ली की कम्पनी का पता लगाया. तुरंत एक दल दिल्ली रवाना हुआ और वहां के व्यापारी से पूछताछ कर गोदाम से माल जब्त कर लिया गया. आरोपियों ने बाकायदा दिल्ली के व्यापारी को फर्जी बिल बनाकर माल बेचा था. आरोपियों के रायपुर में होने की जानकारी मिली, लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले ही वहां से भाग चुके थे.

    पुलिस लगातार उनकी तलाश में छापेमारी कर रही है. सारा माल पुलिस ने जब्त कर लिया है. अब केवल आरोपी गिरफ्तार किया जाना बाकी है. डीसीपी नीलेश भरणे और एसीपी राजेंद्र धामनेरकर के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर एच.एल. उरलागोंडावार, ए.पी. सिद, एपीआई अहिरकर, पीएसआई वाय. वी. इंगले, हेडकांस्टेबल सिद्धार्थ पाटिल, शैलेष बड़ोदेकर, अनिल ब्राम्हणकर, भग‍वती ठाकुर, संजय मनस्कर, मनोज कालसर्पे, आशीष राऊत, देवचंद थोटे, दीपक तार्हेकर और मिथुन नाइक ने कार्रवाई को अंजाम दिया.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145