Published On : Tue, Feb 4th, 2020

नागपुर व औरंगाबाद जिला हज समिति हुई बर्खास्त

नागपूर – महाराष्ट्र राज्य हज समिति ने नागपुर जिला हज समिति व् औरंगाबाद जिला हज समिति को बर्खास्त किया है। राज्य समिति ने अल्पसंख्यक मंत्रालय के आदेश के अनुसार पत्र जारी कर जिला समिति बर्खास्त करने की घोषणा की है। इस संदर्भ में सोमवार को नागपुर के जिला हज समिति के अध्यक्ष जुनैद खान को पत्र मिला है। इस बारे में उन्होंने कहा की वर्ष 2019 में हज यात्रा के लिए जिला समिति गठित की गई थी।

उसका कार्यकाल पूरा हो चूका है। समिति के सदस्य इसके बाद भी हज यात्रियों की सेवा करते रहेंगे। राज्य हज समिति ने पत्र जारी करते हुए स्पष्ट किया है की हज अधिनियम 2020 अंतर्गत जिला हज समिति गठित करने का प्रावधान नहीं है। लेकिन पिछले वर्ष हज यात्रा के पार्श्वभूमि पर नागपुर इम्बार्केशन पॉइंट और हज हाउस की देखरेख के लिए नागपुर समेत औरंगाबाद में भी ऐसा व्यवस्था करने के लिए जिला समिति स्थापित करने का निर्णय लिया गया था। यह समिति केवल 2019 के हज यात्रा के लिए ही गठित की गई थी। जिसके कारण नागपुर व् औरंगाबाद हज समिति भी रद्द की गई है।

नई जिला हज समिति जल्द
राज्य सरकार ने जिला हज समिति बनाने का निर्णय लिया गया था। 2014 में तत्कालीन अल्पसंख्यक मंत्री आरिफ नसीम खान ने अधिसूचना जारी कर जिला हज समिति स्थापन करने के आदेश जारी किए थे। इसके अंतर्गत राज्य हज समिति ने नागपुर और औरंगाबाद जिला हज कमिटी का गठन किया था। दोनों ही इम्बार्केशन पॉइंट से अनेक हज यात्री रवाना होते है। जिसके कारण राज्य हज समिति जल्द ही नए सिरे से दोनों ही जिला हज समिति का गठन करेंगे ऐसा राज्य हज समिति के अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी ने कहा।