Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Feb 12th, 2020

    मुंढे ने किया भांडेवाड़ी डंपिंग यार्ड का औचक निरीक्षण

    – लगभग 2 घंटे रहे,ली जानकारी,गिला-सूखा अलग-अलग करने के निर्देश दिए

    नागपुर – आयुक्त तुकाराम मुंढे ने बुधवार को सुबह 9 बजे से भांडेवाडी डंपिंग यार्ड का अचानक दौरा किया। उन्होंने कचरा व्यवस्थापन कार्य को समझा। उन्होंने सर्वप्रथम कचरा वजन करने वाली पद्धति की जानकारी ली। इसके बाद कचरे के एक पहाड़ पर जाकर नागपुर वासियों द्वारा संकलित कचरे की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने इस बात पर नाराजगी जताई कि अभी भी मिक्स कचरा भांडेवाडी डंपिंग यार्ड में आ रहा है । प्लास्टिक भी अलग नहीं हो रहा है। हैंजर के कचरा कंपोस्टिंग प्रकल्प की भी जानकारी प्राप्त की।

    उन्होंने कहा कि नागरिकों को गीला कचरा व सूखा कचरा अलग अलग देना चाहिए । एक साथ कचरा नहीं लिया जाएगा । नागरिकों को कचरा विलगीकरण नहीं करने पर जुर्माना भी लगाया जाएगा ।

    मुंढे ने वर्षों पुराना कचरा विलगीकरण करने की प्रक्रिया को देखने के बाद कहा कि यदि नागरिकों ने अलग-अलग कचरा दिया होता तो आज यह समस्या पैदा नहीं होती। कचरे की वजह से वायु प्रदूषण फैल रहा है

    कचरा संकलन करने वाली कंपनियों को भी अलग-अलग कचरा जमा करने के निर्देश दिए गए हैं ।

    नागपुर में अस्थमा से करीब एक लाख लोग पीड़ित है । इसलिए आयुक्त ने कचरे का वैज्ञानिक तरीके से प्रक्रिया करने को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की है। उनका कहना है कि जनसहभागिता व मनपा के प्रयत्नों से इस समस्या का हल किया जा सकता है ।

    वे करीब 2 घंटे तक वहां थे।जनता-जनार्दन को भी गिला-सूखा अलग-अलग करने का आव्हान किया। कुछ दिनों बाद ऐसा नहीं करने वालों के कचरे नहीं उठाने का भी आदेश दिया। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग प्रमुख डॉक्टर प्रदीप दासरवार,जलप्रदाय विभाग की स्वेता बनर्जी,स्मार्ट सिटी के राजेश दुपारे आदि थे। बनर्जी के अधीन कचरों का प्रोसेसिंग की जिम्मेदारी आती हैं।


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145