Published On : Thu, Sep 15th, 2016

मूनलाइट स्टूडियो के मालिक ने पुलिसकर्मियों से की बदसलूखी, मामला थाने में दर्ज

Moonlight Studio
नागपुर: शहर के सीताबर्डी इलाके में पुलिसकर्मियों से बदसलूकी किये जाने का मामला सामने आया है। यह घटना कही और नहीं बल्कि गुरुवार 15 सितंबर को सुबह थाने से महज चंद कदमो की दुरी पर घटी। पुलिस से बदसलूखी करने का आरोप शहर के जानेमाने फोटो स्टूडियो मूनलाइटके मालिक तुषार वर्मा पर जिसके खिलाफ एपीआई अमोल इंगोले ने पुलिस थाने में मामला भी दर्ज कराया है। अमोल ट्रैफिक पुलिस में कार्यरत है। गुरुवार सुबह हर दिन की ही तरह सीताबर्डी इलाके में पेट्रोलिंगकर रहे थे। अमोल की दर्ज शिकायत के अनुसार सुबह जब वो पेट्रोलिंग पर थे तब झांसी रानी चौक पर दो कार उन्हें और उनके साथी हवालदार को नो पार्किंग झोन पार्क दिखी।

नियम के मुताबिक जब वह कार को नो पार्किंग वाली जगह से हटवाने पहुँचे। इस कार के पास तुषार वर्मा खड़ा था उन्होंने उससे कार हटाने का आग्रह किया। अमोल के इस आग्रह पर तुषार आगबबूला हो गया और उल्टा पुलिसकर्मियों से बदतमीजी करने लगा। उसने खुद को मूनलाइट स्टूडियो का मालिक बताते हुए धौसदिखाने लगा। पुलिसकर्मियों ने उसे समझाने की कोशिश की पर वो नहीं माना और गालियां देने लगा। एपीआई अमोल इंगोले ने पहले तो उसे गलत व्यवहार करने से माना किया पर जब वो नहीं माना तो उसकी हरकतों को मोबाइल कैमरे में कैद करने का प्रयास किया। जिससे वो और भड़क गया और मोबाइल फ़ोन छीन लिया। तुषार काफी देर तक हंगामा करता रहा पर जब इस हथकंडे की वजह से उसकी दाल नहीं गली तब उसने पैसे का लालच देकर मामला रफा दफा करने का भी प्रयास किया।

आम सिविलियन के इस व्यवहार से सरकारी काम में लगे पुलिसकर्मियों ने खुद को अपमानित महसूस किया। जिसके बाद उन्होंने बर्डी पुलिस स्टेशन पहुँचकर तुषार वर्मा के खिलाफ मामला दर्ज कराया। एपीआई अमोल इंगोले की शिकायत पर मूनलाइट के मालिक तुषार वर्मा के खिलाफ धारा 356, 352, 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है।