Published On : Sat, May 23rd, 2015

मूल वासियों को नहीं मिल रहा पीने का पानी !


पानी सिंचाई के मुख्य लाइन के वाल से फव्वारा

हजारों लीटर पानी बर्बाद

Water Problem in Mool
मूल (चंद्रपुर)।
चंद्रपुर जिले जैसे अतिउष्ण तापमान के मूल नगर में नागरिकों को दो समय नल से पीने के पानी की आपूर्ति करनी चाहिए. लेकिन यहां एक समय तो दूर विगत 10 महिने से पीने का पानी नही आ रहा है. जिससे प्रशासन की अनदेखी साफ दिखाई दे रही है.

वैनगंगा नदी पर हरणघाट जल आपूर्ति योजना करोडों रूपये खर्च करके शुरू की. गर्मी में भी नदी को काफी पानी रहता है. फिर भी नगर परिषद की नियोजन से आज नागरिकों मिलने वाला पानी मुख्य पाईप लाइन के वाल से उड़ रहा है. इस वजह से हजारों लीटर पीने का पानी बर्बाद हो रहा है तथा पिने के पानी जैसी गंभीर समस्या की ओर नगर परिषद पदाधिकारी और प्रशासन तथा पानी सिंचाई विभाग अनदेखी कर रहा है.

Water problem in mool 2
हरणघाट से पानी सिंचाई वाली मुख्य पाईप लाइन रायगड गांव जाती है. मुख्य सड़क पर पाईप लाइन का वाल निकलने से बगीचे में फव्वारा उड़ रहा है. जिससे हजारों लिटर पानी बर्बाद हो रहा है तथा बोरचांदली गाव में प्राथमिक स्कूल के वॉलकम्पाउंड को सटकर गई पाईप लाइन के वाल में बड़ा लिकेज हुआ है. जिससे हजारों लिटर पानी बर्बाद हो रहा है. वही इसी गांव की महिलाएं लिकेज वाल से पानी भरने के लिए भीड़ इकठ्ठा करती है. उक्त लिकेज पाईप की मरम्मत जल्द नगर परिषद करे जिससे हजारों लिटर पानी बच सकता है व मूल नगर के 100 परिवारों की प्यास बुझा सकता है. मूल नगर के नागरिकों को गर्मी में पिने पानी नही मिल रहा. नगर परिषद जल्द से जल्द पीने के पानी की व्यवस्था करे ऐसी मांग नागरिकों ने की है.