Published On : Wed, Nov 23rd, 2016

मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना की सुस्त चाल हुई तेज, इस वित्तीय वर्ष मिली 54 किमी. के काम मंजूर

gram-sadak-yojna

नागपुर: मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना ग्रामीण भारत को जोड़ने के लक्ष्य को लेकर शुरू की गई है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना इस संकल्पना का प्रेरणा स्रोत है। धीमी गति से चलनेवाली इस परियोजना को इस साल बहुत गति मिलते दिखाई दे रही है। इस वित्तीय वर्ष अर्थात 2015-16 में मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत कुल 13 तहसीलों में 54 कि.मी. लंबाई की साकार की जाएगी। इस सड़क निर्माण कार्य को प्रशासकीय मान्यता प्राप्त हुई है। इससे ग्रामीण इलाकों के गांवों को एक दूसरे से जोड़ने का सुर्वण अवसर मिल सकेगा।

मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना की कार्यकारी अभियंता ए.ए.घुगे ने जानकारी दी कि वित्तीय वर्ष 2016-17 के लिए विभाग को कुल 135 कि.मी का लक्ष्य दिया गया है। जिसके मुकाबले फिलहाल 25.81 करोड़ रुपए मूल्य के 55 कि.मी. के कार्यों को प्रशासकीय मान्यता प्राप्त हुई है। शेष बचे 52 कि.मी. के सड़क निर्माण कार्य के प्रस्ताव सरकार के पास भेज दिए गए है और 28 कि.मी. के कार्यों की डीपीआर बनाई जा रही है। इस वर्ष 54 कि मी लंबे 22 सड़क निर्माण कार्यों के कार्यादेश दिए जा चुके हैं। जल्द ही इसका काम भी शुरू हो जाएगा।

इसी जिले में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के रुके पड़े 11 करोड़ रुपए के बिल का भुगतान भी हो जाने के कारण इसका काम भी जल्द शुरू होने की जानकारी प्राप्त हुई है। बता दें कि बिल अदायगी ना हो पाने के कारण 13 सड़कों के काम पिछले साल भर से पूरी तरह ठप्प पड़े थे। इससे कई बनी हुई और अधूरे काम पूरी तरह से खराब हो गए थे। लेकिन अच्छी बात यह है कि इन सड़कों कोे तैयार करनेवाले ठेकेदारों ने इन्हें अपनी ओर से फिर से बनाने का भरोसा विभाग को दिलाया है।