Published On : Sat, Jun 19th, 2021

फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का 91 साल की उम्र में निधन

चंडीगढ़: फ्लाइंग सिख के नाम से मशहूर देश के महान धावक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) का शुक्रवार रात 11.30 बजे निधन हो गया. 91 वर्ष की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली. वह कोरोनावायरस से संक्रमित हुए थे और चंडीगढ़ स्थित PGI में उनका इलाज चल रहा था. बीती 19 मई को उनकी कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वह चंडीगढ़ स्थित अपने घर पर ही इलाज करवा रहे थे लेकिन स्वास्थ्य बिगड़ने के बाद 24 मई को उन्हें मोहाली स्थित अस्पताल के ICU में भर्ती कराया गया. 13 जून को उनकी पत्नी और भारतीय महिला वॉलीबॉल टीम की पूर्व कप्तान निर्मल मिल्खा सिंह (Nirmal Milkha Singh) का मोहाली के एक अस्पताल में COVID-19 संक्रमण से संबंधित जटिलताओं के कारण निधन हो गया था.

मिल्खा सिंह को 3 जून को चंडीगढ़ स्थित PGIMER में भर्ती कराया गया. 13 जून को उन्होंने कोविड को मात दी. उनकी जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई लेकिन उनकी हालत स्थिर बनी हुई थी. डॉक्टरों की एक विशेष टीम उनका इलाज कर रही थी. 18 जून रात 11:30 बजे उन्होंने अस्पताल में अंतिम सांस ली.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने मिल्खा सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया है. कुछ देर पहले उन्होंने ट्वीट किया, ‘श्री मिल्खा सिंह जी के निधन से हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया है, जिसने देश की कल्पना पर अपनी छाप छोड़ी थी और अनगिनत भारतीयों के दिलों में एक विशेष स्थान बना लिया था. उनके प्रेरक व्यक्तित्व ने खुद को लाखों लोगों का प्रिय बना दिया था. उनके निधन से आहत हूं.

पीएम मोदी ने आगे लिखा, ‘मैंने कुछ दिनों पहले श्री मिल्खा सिंह जी से बात की थी. मुझे नहीं पता था कि यह हमारी आखिरी बातचीत होगी. कई नवोदित एथलीट उनकी जीवन यात्रा से हिम्मत हासिल करेंगे. उनके परिवार और दुनियाभर में कई प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं.’