Published On : Fri, Oct 6th, 2017

सुरक्षा रक्षकों की मांग को लेकर काले फीते लगाकर कर रहे मेडिकल के डॉक्टर काम

Advertisement


नागपुर: मेडिकल अस्तपताल में डॉक्टरों के साथ मारपीट की घटनाएं कई बार हो चुकी हैं. ऐसी घटनाएं न हों इसके लिए डॉक्टरों की सुरक्षा को लेकर प्रशासन की ओर से अस्पताल में सुरक्षा रक्षकों की तैनाती की गई थी. जिसके बाद हॉस्पिटल के डॉक्टरों को सुरक्षा की चिंता नहीं थी. लेकिन कुछ दिन पहले महाराष्ट्र राज्य सुरक्षा बल के जवानों ने अपनी मांगों को लेकर कामबंद आंदोलन किया था. जिसके कारण पिछले 20 दिनों से मेडिकल अस्पताल में कोई सुरक्षा रक्षक नहीं हैं. इससे डॉक्टरों की सुरक्षा पर एक बार फिर भगवान भरोसे चले गई है. ऐसे में सुरक्षा रक्षकों की मांग को लेकर मेडीकल अस्पताल के चिकित्सकों की ओर से प्रशासन और डीन के खिलाफ काले फीते बांधकर चिकत्सक मरीजों का इलाज कर विरोध प्रदर्शन किया.


इस मांग के साथ ही दूसरे मेडीकल कॉलेजों में भी विद्यार्थियों को काफी सुविधाएं दी जाती हैं. लेकिन यहां वह नहीं है. कॉलेज विकास के नाम से भी अस्तपताल प्रशासन की ओर से पैसे लिए जाते हैं. यह मांगे भी इसमें शामिल हैं. इन मांगों को लेकर मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थी डॉक्टरों ने मेडिकल अस्पताल के डीन डॉ. निसवाड़े को कई बार निवेदन दिया था. लेकिन डीन की ओर से कोई भी ठोस कदम नहीं उठाए जाने के कारण मेडिकल के डॉक्टर और विद्यार्थियों ने प्रशासन का इस तरह से विरोध किया है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement