Published On : Thu, Dec 5th, 2019

महापौर सहायता निधि का जरूरतमंद लोगों को मिलेगा लाभ: महापौर संदीप जोशी

Advertisement

नागपुर – महापौर की मिट द प्रेस नागपुर शहर के नवनिर्वाचीत महापौर संदीप जोशी ने पदभार संभालते ही अपने कामों के जरीए नई छाप और जनता के सामने नई उम्मीद रखी है.संदीप जोशी इन्होने महापौर पद संभालने के बाद गुरुवार को पहली बार शहर के पत्रकारों से मिट द प्रेस व्दारा चर्चा की.इस चर्चा मे उन्होने बताया की, पदभार संभालते हुए दस दिन हुए. इन दस दिनो मे मैने एक भी सम्मान व स्वागत स्वीकारे नही है.

उन्होने कहा की स्वागत या सम्मान मे लगने वाला निधी संबधीत आयोजन समिती महापौर सहायता निधी मे देना चाहीए. जिसे जरुरमंद व्यक्ती को मदत मिले. महानगर पालीका की और से शहर के जरुरतमंद व्यक्तीयो के लिए महापौर सहायता निधी नाम से निधी जमा किया जा रहा है.

Advertisement
Advertisement

जोशी ने बताया की इस योजना के लिए पार्षद संजय बंगाले की अध्यक्षता मे समिती गठीत की गई थी. इस योजना का प्रारुप तैयार हो गया है, और जल्द ही इसे सभागृह के सामने रखकर अंतिम नियम तय किए जाएंगे. संदीप जोशी ने आगे कहा की नागपुर के विकास के लिए नई कल्पना आणि चाहीए. महापौर चाहे ऐसा नही, जो जनता चाहे ऐसा नागपुर तैयार करना है. इसी लिए मैने जनता तक पहुँचा इस लिए मैने वाॅक टु टाॅक मेयर, ब्रेक फास्ट मेयर जैसे कार्यक्रम आयोजीत किए. इसके जरीए जनता की प्रमुख 4 समस्याए सामने आई है. अतिक्रमण, मवेशी, लावारिस कुत्ते और साफ-सफाई हैं. संदीप जोशी अपने कार्यकाल के बारे मे कहा की मुझे सवा साल मे 20-20 मैच खेलना है. उन्होंने कहा कि अतिक्रमण प्रमुख प्राथमिकता है.

इसके लिए पुलिस के साथ बैठक की गई है. इसपर काम शुरू होगा.उन्होंने कहा कि 200 वरिष्ठ नागरिकों की समस्या और सूचनाएं सुनी है. इसका निवारण भी किया जाएगा. उन्होंने बताया कि इतिहास में पहली बार अतिक्रमण पर विशेष बैठक बुलाई गई है. फुटपाथ पर 15 दिनों में कार्रवाई दिखाई देगी. थूंकने को लेकर पौने तीन करोड़ रुपए वसूल किए गए है.

उन्होंने कहा कि शहर में 56 यूरिनल है उसे 100 बनाने का लक्ष्य है.उन्होंने कहा कि महापौर निधि से 75 सुलभ शौचालय बनाएंगे. उन्होंने कहा कि श्वानों की समस्या बढ़ रही है.शहर के एनजीओ और विदर्भ के एनजीओ के साथ बैठक ली जाएगी. उन्होंने कहा कि सफाई के साथ ही शहर के विभिन्न हिस्सों में कचरे के लिए 5 कलेक्शन बनाए जाएंगे.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement