Published On : Mon, Feb 8th, 2021

Video: निजी क्षेत्र में सेवा दे रही मनपा रोलर

– वर्कशॉप विभाग का गजब कारोबार

नागपुर : मनपा में आये दिन नए नए गैरकानूनी कारनामें होते रहते हैं.जिसे मनपा का कोई वास्ता नहीं होता।हाल फ़िलहाल में यह मामला सामने आया कि पिछले कई महीनों से पक्ष-विपक्ष के नगरसेवक विकासकार्यों के लिए मनपा प्रशासन से जूझ रहे तो दूसरी ओर मनपा PWD और WORKSHOP विभाग में चल रही धांधली थमने का नाम नहीं ले रही.अब मनपा के रोड रोलर निजी क्षेत्र में सेवाएं देने का वीडियो सामने आया.

यह वीडियो कामठी रोड पर स्थित एक स्कूल के परिसर में लेवलिंग का काम कर रहा था.पूछने पर जानकारी मिली कि ऊपर से आदेश मिलने के बाद दी गई जिम्मेदारी पूरी की जा रही.इससे मनपा का बड़ा नुकसान हुआ.ईंधन के साथ ड्राइवर के डेली वेतन मनपा को भरना पड़ा और मनपा के अन्य कार्य प्रभावित हुए.


विडंबना यह हैं कि मनपा आयुक्त फील्ड पर कम ही जाते हैं,वे उद्घाटन जैसे कार्यों में ही बाहर नज़र आते.इसलिए इसका फायदा PWD और WORKSHOP विभाग खुलेआम उठा रहा.

आयुक्त सीसी रोड पर पर्दा डाल रहे ?
मुख्य अभियंता लीना के नेतृत्व में सीसी रोड फेज-2 के टेंडर और भुगतान घोटाले की जाँच समिति आयुक्त ने गठित की,उन्होंने तत्कालीन महापौर संदीप जोशी के आदेश को नज़रअंदाज कर यह समिति गठित की.उनकी भी मानसिकता यह थी कि NAGPUR TODAY द्वारा सार्वजानिक किये गए सीसी रोड फेज-2 में हुए टेंडर घोटाले की निष्पक्ष जाँच हो.लेकिन जोशी द्वारक गठित समिति को मनपा आयुक्त ने गैरकानूनी समिति करार कर खुद एक समिति गठित की.इस समिति को गठित किये कई माह बीत गए लेकिन आजतक जाँच की रिपोर्ट तैयार नहीं हुई,कारण मुख्य अभियंता और दोषी ठेकेदार के मध्य मधुर सम्बन्ध बताया जा रहा.जबकि शेष सभी सदस्य मुख्य अभियंता के नित के खिलाफ हैं.लगभग एक माह हो गए जाँच समिति की बैठक नहीं हुई.इस मामले को PMO ने गंभीरता से लेते हुए राज्य के UD-2 पाठक को सख्त कार्रवाई के निर्देश भी दिए थे.इन सब के बावजूद ,मनपा आयुक्त की इस मामले में चुप्पी कई सवाल खड़े कर रही,क्या मनपा आयुक्त दोषी ठेकेदार अश्विनी इंफ़्रा और डीसी ग़ुरबक्षाणी और दोषी अधिकारियों को बचा रही ?

HOTMIX के कार्यप्रणाली संदिग्ध,भुगतान के अनुरूप विकासकार्य का लेखाजोखा नहीं
HOTMIX विभाग पर चुनिंदे अधिकारी/कर्मी और जनप्रतिनिधि का एकक्षत्र बोलबाला हैं.इस विभाग अंतर्गत किये गए कार्यो का कोई लेखा जोखा उपलब्ध नहीं।यह विभाग HOTMIX चलाने के लिए किस ईंधन का उपयोग करता उसकी जानकारी देने में आनाकानी कर रही.पिछले 10-15 वर्षो में प्रत्येक वर्ष डामर,ईंधन,विभिन्न आकार के गिट्टी आदि खरीदी की जाती रही,लेकिन उनके हिसाब से होने वाले कामों का विभाग के पास कोई लेखाजोखा नहीं।क्या इस विभाग में बिल बनाकर मनपा को चुना लगाने का काम शुरू हैं ?