Published On : Wed, Jun 26th, 2019

मालेगांव : 32 घंटे तक कुए के मलबे में फंसा रहा युवक

नागपुर: आरेंज सिटी से 35 किलोमीटर की दूरी पर स्थित मालेगांव में एक युवक को 32 घंटे बाद कुएं से निकाला गया. घंटों तक कुएं में फंसे रहने से गांव के नागरिकों में खलबली मच गई थी. कड़ी मशक्कत के बाद एनडीआरएफ की टीम ने युवक सुभाष पारडकर (23) को बाहर निकालकर उपचार के लिए नागपुर के मेडिकल अस्ताल में भर्ती किया. युवक कुएं की सफाई करने के लिए अंदर उतरा था. अचानक दीवार धंस जाने से युवक की जान खतरे में आ गई थी.

एनडीआरएफ की टीम ने निकाला बाहर
दरअसल मालेगांव के पास एक पुश्तैनी कुआं है. इस वर्ष भीषण गर्मी के कारण पूरा कुआं सूख गया था. मानसून की दस्तक होते ही लोगों ने कुएं की सफाई करने का निर्णय लिया. कुएं की स्थिति जर्जर हो चुकी है, कुएं से मलबे की सफाई करने के लिए लोगों ने सुभाष को रस्सी बांधकर कुएं में उतारा. कुछ देर तक सफाई कार्य जारी रहने के बाद अचानक कुएं की मिट्टी धंसने लगी और देखते ही देखते कुएं का एक बड़ा हिस्सा ढह गया.

इतने बड़ा हिस्सा ढह जाने से युवक मलबे के नीचे दब गया. लोगों ने तुरंत इसकी सुचना पुलिस को दी, बड़े-बड़े मोटे पत्थर युवक ऊपर गिरने से लोगों ने उसे मृत मान लिया था. इसके बाद नागपुर से रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और बचाव कार्य शुरू किया.


कुएं में हलचल होने पर टीम को युवक जीवत होने का संकेत मिल गया. इस दौरान मंगलवार को करीब सुबह 10 बजे जबलपुर से एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और घंटों की मशक्कत के बाद युवक को सही सलामत बाहर निकाला गया.