Published On : Thu, Mar 15th, 2018

ताजबाग में एसएनडीएल की बड़ी कार्रवाई

  • 35 से अधिक बिजली चोर पकड़े गए; रु.19 लाख का असेसमेंट निकाला गया
  • बिजली चोरों और उनके सहयोगियों ने एसएनडीएल स्टाफ पर पथराव किया
  • पुलिस में शिकायत दर्ज, 6 आरोपी गिरफ्तार


नागपुर: बिजली चोरी रोकने के उद्देश्य से एसएनडीएल ने बुधवार दिनांक 14 मार्च को ताजबाग में बड़ी कारवाई की। बताया जा रहा है कि एसएनडीएल द्वारा विद्युत आपूर्ति की कमान संभालने के बाद इस क्षेत्र में यह पहली कार्रवाई है जो इतने बड़े स्तर पर की गई हो। प्रातः 11 बजे एसएनडीएल का सर्तकतादल पुलिस बल के साथ ताजबाग पहुंचा। दल में महिला कर्मचारी व महिला पुलिस कर्मी भी शामिल थे। जैसे ही एसएनडीएल की टीम ताजबाग परिसर में पहुंची लोग इकट्ठा हो गए और कार्रवाई का विरोध करने लगे। पुलिस और एसएनडीएल के कर्मियों ने उन्हें समझाने का भरपूर प्रयास किया कि किस प्रकार इस क्षेत्र में हो रही बिजली की बड़े स्तर पर चोरी स्वयं यहाँ के रहवासियों के लिए खतरनाक है।

इस बीच कुछ असामाजिक तत्वों ने टीम पर पथराव करना शुरू कर दिया। इसमें एसएनडीएल का एक कर्मी बुरी तरह घायल हो गया। भीड़ को नियंत्रित करने हेतु पुलिस को हल्के बल का प्रयोग भी करना पड़ा। इस बीच एसएनडीएल के तमाम उच्चाधिकारी मौके पर पहुँच गए तथा स्थानीय लोगों को आश्वासन दिया कि केवल चिह्नित बिजली चोरी करने वाले परिसरों में ही कार्रवाई की जाएगी तथा किसी को भी बेवजह तंग नहीं किया जाएगा। परंतु कुछ लोग फिर भी कार्रवाई का विरोध करते हुए दिखाई दिए । बावजूद इसके, पुलिस दल के सहयोग से शाम तक भी एसएनडीएल की टीम ने भारी तनाव के बीच भी अपनी कार्रवाई जारी रखी।


इसके फलस्वरूप कुछ बहुत बड़े स्तर की बिजली चोरियाँ पकड़ने में टीम को सफलता प्राप्त हुई। इस कार्रवाई में शाम तक कुल 65 कनेक्शन जांचे गए, जिसमें से 35मीटरों में बिजली चोरी पाई गई। सबसे बड़ी चोरी एक ट्यूशन क्लास में मिली। यह कनेक्क्शन हसीना बेगम शब्बीर खान के नाम से है और यहां लगभग 11 किलोवाट से अधिक का अघोषित भार मिला जो कि पूरा चोरी की बिजली से चल रहा था। इस परिसर पर रु.2.4 लाख की चोरी पाई गई। इसी प्रकार शादाह खान पर लगभग रु.2 लाख, वाजिद सैयद पर रु. 60 हज़ार, प्रदीप जज्ञासी पर रु.75 हज़ार सहित संपूर्ण ताजबाग परिसर में 19 लाख से अधिक की चोरी पकड़ी गई है। देर शाम असेसमेंट का कार्य जारी रहा।


इस पूरी कार्रवाई में पुलिस दल की भूमिका अत्यंत सराहनीय रही। बहरहाल, पथराव करने वालों पर सक्करदरा पुलिस थाने में एफआईआरदर्ज कराई गई है। बताया गया कि पुलिस ने 6 आरोपियों को धारा 143, 147, 148, 186, 332 और धारा 353 (ग़ैर-जमानती) के अंतर्गत गिरफ्तार कर लिया है। एसएनडीएल कर्मचारियों ने मौजूद पुलिस दल का आभार माना।

सूत्रों ने बताया कि यह कार्रवाई अब नियमित रूप से शहर के विभिन्न भागों में जारी रहेगी। एसएनडीएल का मानना है कि बिजली चोरी एक सामाजिक अपराध है। साथ ही राष्ट्रीय संपत्ति का दुरुपयोग भी है। इन बिजली चोरों की वजह से सामान्य उपभोक्ता को परेशानी का समना करना पड़ता है। एसएनडीएल ने आव्हान किया है कि बिजली चोरी को रोक कर राष्ट्र निर्मण में सहयोग करें।