Published On : Wed, Apr 28th, 2021

महाराष्ट्र: ठाणे के प्राइम क्रिटिकेअर हॉस्पिटल में लगी आग, चार मरीजों की मौत

कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र के अस्पतालों में आग लगने की घटनाएं बढ़ गई हैं. अब ठाणे के प्राइम क्रिटिकेअर हॉस्पिटल में बुधवार तड़के आग लग गई. आग लगने के बाद आनन-फानन में मरीजों को दूसरे हॉस्पिटल में शिफ्ट किया जाने लगा. इस दौरान चार मरीजों की मौत हो गई. मौत का आंकड़ा और बढ़ सकता है. ठाणे महानगर पालिका के एक अफसर ने बताया कि आज सुबह 03:40 बजे ठाणे के मुंब्रा में प्राइम क्रिटिकेअर अस्पताल में आग लग गई, दो दमकल और एक बचाव वाहन घटनास्थल पर हैं, आग बुझाने का काम चल रहा है, दूसरे अस्पताल में मरीजों की शिफ्टिंग के दौरान चार की मौत हो गई है.

अस्पतालों में लगातार हो रहे हैं हादसे
इससे पहले मुंबई से सटे विरार इलाके में विजय वल्लभ कोविड अस्पताल में आग लगने से 14 लोगों की मौत हो गई थी. हॉस्पिटल में 17 कोरोना मरीज ICU में थे, जिसमें से 14 की मौत हुई थी. आग लगने के समय पूरे अस्पताल में कुल 90 मरीज थे और तीन आईसीयू मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया गया था.

महाराष्ट्र के अस्पतालों में लगातार हादसे हो रहे हैं. विरार में आग से पहले नासिक महानगरपालिका द्वारा संचालित डा. जाकिर हुसैन अस्पताल के ऑक्सीजन टैंक लीक हो गई. इसे रोकने के लिए मरीजों को आक्सीजन की आपूर्ति कुछ समय के लिए रोक दी गई.


इस वजह 24 कोरोना मरीजों की मौत हो गई थी, जो वेंटिलेटर पर थे. नासिक की घटना से पहले 26 मार्च को मुंबई के भांडुप उपनगर स्थित ड्रीम्स माल के सनराइज कोविड अस्पताल आग लग गई थी. इस हादसे में 11 मरीजों को अपनी जान गवांनी पड़ी थी. मरने वाले सारे मरीज वेंटिलेटर पर थे, जिसकी वजह से बाहर नहीं निकल सके थे. अस्पताल में कोरोना पीड़ितों के अलावा दूसरी बिमारियों के मरीज भी भर्ती थे.Live TV