Published On : Tue, Jan 20th, 2015

चंद्रपुर जिले में शराबबंदी : राज्य मंत्रिमंडल का निर्णय


सुधीर मुनगंटीवार ने किया आश्वासन पूरा, जिले की महिलाओं को दिलासा

Liqour ban
चंद्रपुर।
जिले में शराबबंदी होने की प्रतीक्षा में जिले के हजारो आंदोलनकर्ता महिलाओं व समर्थकों को दिलासा मिला है. मंगलवार को राज्य मंत्रिमंडल के बैठक में चंद्रपुर जिले में शराबबंदी करने का निर्णय लिया गया. लोकसभा व विधानसभा चुनाव से चंद्रपुर में शराबबंदी होंगी ही, ऐसा आश्वासन देने वाले राज्य के वित्तमंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने आश्वासन पूरा किया. दारुबंदी के निर्णय से शराब व्यवसायिकों को जबरदस्त धक्का लगा है.

चंद्रपुर जिले में शराबबंदी के लिए हजारो महिलाओं ने विभिन्न आंदोलन किये. 2010 में करीब पाचहजार महिलाओं ने 150 किलोमीटर पैदल चलकर नागपुर के शीतकालीन सत्र पर मोर्चा निकाला था व शासन का ध्यान आकर्षित किया था. इस पर आघाडी सरकारने शराबबंदी अध्ययन समिती निर्धारित करके रिपोर्ट पेश करने के लिए बताया. उसी समय पालकमंत्री संजय देवतले की अध्यक्षता में समितीने संपुर्ण चंद्रपुर जिले की जांच करके रिपोर्ट तयार की. इस समितीने शराबबंदी के संदर्भ में रिपोर्ट राज्य शासन की ओर पेश की. लेकिन आघाडी सरकारने इसकी और नजर अंदाज करके निर्णय प्रलंबित रखा. 2014 की  लोकसभा व विधानसभा की चुनाव में सुधीर मुनगंटीवार ने सत्ता में आनेपर चंद्रपुर में शराबबंदी का निर्णय लेने का आश्वासन चंद्रपुर की जनता को दिया था. केन्द्र व राज्य में भाजपा की सत्ता आने के बाद भी चंद्रपुर में शराबबंदी के सन्दर्भ में निर्णय नहीं होने से चंद्रपुर वासियों की स्थिति निराशा जनक हो गयी थी. वहीं निर्णय की मोहलत में लिकर लॉबी सक्रीय होने का कहां जा रहा था. परंतु राज्य के वित्तमंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने शराबबंदी होगी ही, ऐसा आश्वासन दिया था. आज मंगलवार 20 जनवरी को राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में चंद्रपुर जिले में शराबबंदी करने का निर्णय लिया गया.

चंद्रपुर जिले में देशीदारु के ठोक बिक्रेता 5 है. वहीं विदेशी शराब बिक्रेता 3 है. जिले में कुल 24 वाईनशॉप, 313 बियर बार है. वहीं बियर शॉपी 52 है. चंद्रपुर क्लब की अनुमति सिर्फ दो है. इसमें चांदा क्लब व जयश्रीया का समावेश है. चंद्रपुर शहर में कुल 55 बियर बार है. जिले में कुल शराब व्यवसाय पर 2 हजार 882 कामगार कार्यरत है. सर्वाधिक शराब के व्यवसाय पर निर्भर रहनेवाले होने का बताया जा रहा है. विगत वर्ष 2013-14 में 1 करोड़ 20 लाख 30 हजार 496 की देशीदारु बल्क लिटर में बेची गयी. इसी प्रकार विदेशी शराब 34 लाख 89 हजार 531, बियर 34 लाख 57 हजार 255 बल्क लिटर में बिक्री होने की जानकारी है. शासन को करीब 210 करोड़ रूपये का टैक्स एक्साईज ड्युटी के रूप में मिल रहा था.

जिले की वाईनशाप- 24
बियर बार – 313
बियर शॉपी – 52
क्लब अनुमति – 2
देशीदारु के ठोक बिक्रेता – 5
चिल्लर देशीदारु बिक्रेता – 106
विदेशी शराब ठोक बिक्रेता – 3
चंद्रपुर शहर – 55 बियर बार