Published On : Sun, Sep 29th, 2019

महाराष्ट्र में चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, BJP में शामिल होंगे 6 MLA!

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. कांग्रेस के छह मौजूदा विधायकों ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थामने का फैसला लिया है. यह सभी औपचारिक रूप से सोमवार को बीजेपी की सदस्यता हासिल करेंगे.

बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है. चुनाव आयोग के मुताबिक यहां 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे और 24 अक्टूबर को चुनाव के नतीजे सामने आ जाएंगे. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के 6 मौजूदा विधायक मुख्यंमन्त्री देवेंद्र फडणवीस की उपस्थिति में मुंबई के गरवारे क्लब में बीजेपी में शामिल होंगे.

भाजपा में शामिल होने वाले कांग्रेस के 6 विधायकों के नाम ये हैं…

> असलम शेख मुम्बई मालाड से

> राहुल बोन्द्रे बुलढाणा चिखली से

> काशीराम पावरा शिरपुर जिले से

> डी एस अहिरे साकरी जिले से

> सिद्धराम म्हेत्रे पूर्व मंत्री अक्कलकोट, सोलापुर जिले से

> भारत भालके पंढरपूर सोलापुर जिले से

बता दें कि ये विधायक अपना नाम कांग्रेस द्वारा जारी लिस्ट में नहीं पाने के कारण नाराज थे. हालांकि सियासी हल्के में चर्चा यह भी है कि ये विधायक पहले से ही कांग्रेस को अलविदा कहने का मन बना चुके थे. शायद यही कारण रहा होगा कि ये विधायक टिकट बंटवारे के लिए हुए इंटरव्यू के दौरान भी नदारद रहे.

इधर, बीजेपी-शिवसेना गठबंधन में सब कुछ ठीक नजर नहीं आ रहा है. शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने शनिवार को एक बयान देकर यह जाहिर कर दिया कि वो गठबंधन में किसी भी मुद्दे पर पीछे हटने वाले नहीं हैं. उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने दिवंगत पिता बालासाहेब ठाकरे से वादा किया था कि एक दिन एक शिवसैनिक महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनेगा.

इस बयान को गठबंधन के इसके साथी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लिए एक कड़े संकेत के तौर पर देखा जा रहा है. ठाकरे ने शीर्ष पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की तालियों की गड़गड़ाहट के बीच कहा, ‘मैंने बालासाहेब से यह वादा किया था कि मैं एक दिन शिवसैनिक को राज्य का मुख्यमंत्री बनाऊंगा. मैं उनसे किए वादे को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हूं.’

हालांकि गठबंधन को लेकर किसी भी आशंका को दूर करते हुए, ठाकरे ने कहा कि 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा से गठबंधन किया जाएगा और बहुत जल्द इसकी घोषणा की जाएगी. ठाकरे ने कहा, ‘अगर यह गठबंधन आगे बढ़ता है तो हम पीठ पर वार नहीं करेंगे..हम खुल कर अपनी बात रखेंगे.’

बता दें कि शिवसेना, भाजपा और खुद के लिए 50-50 के अनुपात में सीटों का बंटवारा चाह रही है. इसके तहत दोनों पार्टियों को 135-135 सीटें मिलेंगी और 288 सदस्यीय विधानसभा में 18 सीटें छोटी पार्टियों के लिए छोड़ी जाएंगी. महाराष्ट्र विधानसभा के लिए चुनाव 21 अक्टूबर को होंगे और नतीजे 24 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे.