Published On : Fri, Nov 15th, 2019

मेट्रो नियो युएमआय परिषद मे बनी आकर्षण का केंद्र

मेट्रो नियो परियोजना को लेकर नागरीको मी उत्सुकता
महा मेट्रो का स्टॉल चर्चा का विषय

नागपूर : इस बार १२ वी ‘अर्बन मोबिलिटी इंडिया परिषद और महा मेट्रो प्रदर्शनी का उद्घाटन लखनऊ मे उत्तर प्रदेश के मा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एव मा. केंद्रीय राज्यमंत्री, श्री. हरदीप सिंग पुरी, आवास एवं शहरी कार्य तथा नागर विमानन मंत्रालय (स्वतंत्र प्रभार) वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय,भारत सरकार और श्री. दुर्गा शंकर मिश्रा सचिव (शहरी विकास) मंत्रालय इनके हस्ते संपन्न हुंआ ! लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्टान मे आयोजित ३ दिवसीय परिषद की थीम *सुलभ और रहने योग्य शहरं(Accessible & Liveable Cities) रखी गई है !

१२ वी अर्बन मोबिलिटी इंडिया परिषद मे महा मेट्रो कि ओर से स्टॉल लगाया गया है, इसका विधिवत उद्घाटन आज मा.मुख्यमंत्री,उत्तर प्रदेश और मा. केंद्रीय राज्यमंत्री,भारत सरकार तथा सचिव (शहरी विकास) की प्रमुख उपस्थिती मे किया गया ! इस उद्घाटन के अवसर पर महा मेट्रो के प्रबंध निदेशक डॉ. ब्रिजेश दीक्षित महा मेट्रो द्वारा नागपूर एवं पुणे मे लागू की जा रही आधुनिक मेट्रो रेल परिवहन, मल्टी मॉडेल इंटीग्रेशन,मल्टी लेयर ट्रान्सपोर्ट,महा कार्ड आदी विविध कार्यो की विस्तुत जानकारी दी !

महा मेट्रो द्वारा लगायी गई प्रदर्शनी के मुख्य आकर्षण का केंद्र नासिक मे शुरू होने वाली मेट्रो नियो परियोजना रही इस परिषद का आकर्षन मेट्रो नियो परियोजना देश मे पहली बार नासिक मे प्रारंभ की जा रही है, और यह परियोजना शुरू करने कि जिम्मेदारी महा मेट्रो को सौपी गई है ! देश की यह पहली अनोखी परियोजना तीन दिवसीय परिषद के पहले दिन ही चर्चा का विषय बनी रही ! और इस सबंध मे महा मेट्रो के स्टॉल पर उत्सुकतावश लोग जानकारी लेते रहे ! इसके अलावा महा मेट्रो द्वारा वृक्ष पुनर्रोपण, कॉमन मोबिलीटी कार्ड,नॉन फेयर बॉक्स रेव्हेन्यू,५ डी-बीम,हरित उपक्रम,ईलेव्कट्रीक व्हेइकल चार्जिंग स्टेशन आदि कि जानकारी स्टॉल पर उपलब्ध कराई गई ! उद्घाटन के अवसर पर महा मेट्रो की ओर से संचालक (रोलिंग स्टॉक) श्री. सुनील माथुर,कार्यकारी संचालक (प्रशासन) श्री. अनिल कोकाटे तथा वरिष्ट अधिकारी उपस्थित थे !

इस साल के अर्बन मोबिलिटी इंडिया-२०१९ परिषद का मुख्य विषय सार्वजनिक परिवहन आधुनिकीकरण,कार्बन का उत्सर्जन रोकना,शहरी परिवहन मे परिवर्तन करने के लिए नये तकनिकीज्ञान का उपयोग,कार्ड के माध्यम से भुगतान डिजिटल इंटीग्रेशन करना, परिवहन और पर्यावरण मे सुधार,गैर-मोटरचलित परिवहन को प्रोत्साहन देना तथा परिवहन का भविष्य,विद्युत चलित परिवहन, मेट्रो रेल ऐसे विषय है ! अर्बन मोबिलिटी इंडिया परिषद का आयोजन हर साल किया जाता है ! पीछले वर्ष नवंबर माह मे परिषद का आयोजन करने का सम्मान नागपूर शहर और महा मेट्रो को मिला था !