Published On : Thu, Dec 5th, 2019

मंजीदाना कालोनी में दिखा तेंदुआ, नागरिकों में बढ़ी दहशत

नागपुर: गोरेवाड़ा वनपरिक्षेत्र अंतर्गत काटोल रोड के पास स्थित मंजीदाना कालोनी में देर रात तेंदुआ दिखाई देने से स्थानीय नागरिकों में हड़कंप मच गया. स्थानीय नागरिकों ने तेंदुए होने की सूचना वन विभाग को दी. एक खंडहर में छुपे होने की जानकारी स्थानीय नागरिकों ने दी है. गिट्टीखदान निवासी सच्चिदानंद पांडे ने बताया कि बुधवार की शाम 4 बजे मंजीदाना कालोनी काटोल रोड के पास बैठे कुछ नागरिकों को तेंदुआ दिखाई दिया.

लेकिन लोगों ने उसे वहम समझकर अनदेखा कर दिया. इसके बाद रात 10 बजे के करीब कुछ नागरिक उसी परिसर में दुबारा तेंदुए को घूमता हुआ देख अचंभित हो गए. आसपास के नागरिकों से इसकी चर्चा करने के बाद कुछ नागरिक उसे देखने के लिए पास गए लेकिन वह नहीं दिखा, लेकिन तेंदुआ मिलिटरी और गोरेवाड़ा की कंपाउंड वाल के पास छुपा होने की जानकारी सामने आ रही है. तेंदुआ होने की खबर सुनते ही सड़क पर लोगों की भीड़ जमा हो गई.

जिन लोगों ने तेंदुए को देखा उन्होंने उसकी आवाज भी सुनी है. स्थानीय लोगों की मांग है कि गुरुवार को वन विभाग की टीम पूरे परिसर और गोरेवाड़ा और वायुसेना के अंतर्गत आने वाले परिसर का दौरा करे. परिसर में तेंदुआ घूमने की खबर से स्थानीय नागरिकों में दहशत का माहौल बना हुआ है.

उल्लेखनीय है कि कई वर्ष पहले इसी प्रकार फ्रेन्डस् कालोनी में तेंदुए को घूमते हुए देखा गया था जिससे परिसर के नागरिक काफी डर गए थे और शाम होते ही घर से बाहर निकलना बंद कर देते थे. वही परिस्थिति फिर एक बार लौटती दिखाई दे रही है. गोरेवाड़ा परिसर के आसपास तेंदुआ अक्सर दिखाई देता है और लावारिस कुत्तों को अपना शिकार बनाता है. यदि तेंदूआ परिसर में है तो लोगों की जान संकट में आ सकती है. वन विभाग को इस मार्ग पर तैनात रहने की आवश्यकता है.

दाभा और अंबाझरी में भी मचाई ऊधम
मिहान से बाघ और अंबाझरी में तेंदुआ दिखाई देने की गुत्थी अभी सुलझी नहीं है कि और एक तेंदुए ने काटोल रोड पर बसी कालोनी में आतंक मचा दिया है. 23 नवंबर को दाभा के वायुसेनानगर में तेंदुआ दिखाई देने के बाद वन विभाग की टीम ने सड़क पर वाहनों को रोक सर्च आपरेशन किया, लेकिन वह कहीं भी दिखाई नहीं दिया. उसके कुछ दिन बाद ही अंबाझरी जैवविविधता उद्यान में उसके पद चिन्ह दिखाई दिए.

इसके बाद वन विभाग अधिकारी और कर्मचारी लगातार कैमरा ट्रेप लगाकर अंबाझरी जंगल में उसकी तलाश कर रहे हैं लेकिन वह कहीं भी दिखाई नहीं दिया. उसकी तलाश को लेकर वन विभाग ने पार्क को 8 दिसंबर तक बंद रखने के आदेश दिए हैं. वहीं बुधवार को कलमेश्वर के एक गांव में तेंदुए का 7 महीने का शावक कुएं में गिर गया. शावक को बाहर निकाल कर बचाव दल के कर्मचारी उसकी मां की तलाश कर रहे हैं.