Published On : Sun, Mar 7th, 2021

नागपुर शहर के सीताबर्डी पुलिस स्टेशन को जानिये…

भाग 5 – नागपुर टुडे

नागपुर– शहर के सीताबर्डी पुलिस स्टेशन की स्थापना 1 जुलाई 1965 को की गई थी वर्तमान में इस पुलिस स्टेशन की कमान सीनियर पुलिस निरीक्षक अतुल अच्युत सबनीस ( 1993 बैच के पीएसआई ) के हाथों में है । सीताबर्डी पुलिस स्टेशन में 134 पुरुष तथा महिला पुलिसकर्मियों का स्टाफ है साथ ही 16 छोटे- बड़े अधिकारी यहां कार्यरत है ।

शहर के बीचोबीच यह पुलिस स्टेशन मौजूद है, सीताबर्डी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत जीरो माइल, विधान भवन, विधायक निवास, जीपीओ, रेलवे स्टेशन, मोरभवन बस-स्टॉप, टेकड़ी मंदिर, मीठा नीम दरगाह, कृषि महाविद्यालय, महाराजबाग, एटर्निटी मॉल, देशपांडे हॉल, सीताबर्डी बाजार का परिसर जैसे बड़े और वीआईपी, वीवीआइपी क्षेत्रों का इसमे समावेश है ।

सीताबर्डी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत शहर के और राज्य के वीआईपी, वीवीआइपी भी यहां रहते है. जिसमें चीफ जस्टिस ऑफ़ इंडिया अरविंद बोबडे, महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख, मंत्री सुनील केदार, तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, विजय वड्डेटीवार और पूर्व मंत्री सतीश चतुर्वेदी शामिल है. इन सभी के साथ शहर के प्रतिष्ठित समाचार पत्र लोकमत, तरुण भारत, सकाल, टाइम्स ऑफ इंडिया, महाराष्ट्र टाइम्स, लोकशाही वार्ता और इलेक्ट्रॉनिक चैनल्स यूसीएन और आईबीएन लोकमत के कार्यालय भी इसी जगह है । सीताबर्डी का अतिव्यस्त और बड़ा बाजार साथ ही धरमपेठ, गोकुलपेठ के बाजार भी इसी पुलिस स्टेशन के अधीन आते है ।

(PI) Atul Achyut Sabnis

पुलिस स्टेशन को लेकर सीताबर्डी के पुलिस निरीक्षक अतुल सबनीस ने ‘ नागपुर टुडे से विशेष बात करते हुए बताया कि सीताबर्डी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत 60% कमर्शियल यानी दुकानें, मॉल्स और बाजार वाला परिसर व्याप्त है और 40% निवासी क्षेत्र हैं । श्री. सबनीस ने अपने क्षेत्र में किसी भी तरह के अवैध व्यवसाय या गैरकानूनी गतिविधियों को रोकने के लिए नागरिकों से पुरजोर अपील कि है कि वे ऐसी घटनाएं रोकने में पुलिस की मदद करे । पीआई अतुल सबनीस ने क्षेत्र के नागरिकों से आवाहन करते हुए कहते है कि, वे किसी भी अप्रिय घटना की जानकारी देने के लिए उनके पर्सनल मोबाइल नंबर 9923347788 पर सीधे कॉल कर सकते है साथ ही उन्होंने नागरिकों को आश्वासन दिया है की किसी भी तरह की गुप्त जानकारी देने पर उक्त दक्ष नागरिक का नाम गुप्त रखा जाएगा ।

ट्रैफिक, जेबकतरे, चेन स्नैचिंग प्रमुख समस्याएं है :
“ यहां के प्रमुख बाजार सीताबर्डी गोकुलपेठ और धरमपेठ है जहां ग्राहकों की भारी भीड़ के कारण, ट्रैफ़िक जाम, जेब काटने की घटनाएं, चेन स्नैचिंग और टू व्हीलर चोरी के मामले ज्यादा घटित होते है. ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए भीड़भाड़ वाले व्यस्त बाजारों में सीताबर्डी पुलिस की ओर से दिन में पैदल गश्त कर शातिर चोरों पर पैनी नजर रखी जाती है इसके अलावा स्थानीय लोगों और व्यापारियों के साथ समन्यव बनाया गया है. उनके द्वारा सुझाये गए इनपुट्स के आधार पर पुलिस की ओर से तुरंत कार्रवाई की जाती है ।

संविधान चौक और विधानभवन पर विशेष निगरानी
अप्रिय घटना और परिसर में शांति बनाएँ रखने के लिए शहर के संविधान चौक और विधानभवन पर सीताबर्डी पुलिस की ओर से 24 घंटे निगरानी रखी जाती है. संविधान चौक में होनेवाले प्रदर्शन और विधानभवन के दौरान होनेवाले आंदोलन, धरने , प्रदर्शन के कारण इस परिसर पर ख़ास नजर रखी जाती है ।

नागरिक अपने स्तर पर पुलिस को योगदान करे : पीआई सबनीस
इलाके के व्यस्त बाजारों और भीड़भरे परिसर में सीमित कर्मियों और अधिकारियो के साथ हम अपनी ड्यूटी निभा रहे है. परिसर के हरएक छोटी-बड़ी जगह की निगरानी करना पुलिस के लिए मुमकिन नहीं है. इसलिए नागरिकों से यह अपील है की अपनी शिकायतों और समस्याओ को लेकर तुरंत पुलिस को जानकारी दे और अपराध को रोकने के लिए नागरिक भी अपने स्तर पर पुलिस को सहायता कर समाजकार्य में अहम योगदान करे ।

परिसर के स्थानीय नागरिको का सहभाग
सीताबर्डी पुलिस नागरिकों की समस्याओ तथा गंभीर घटनाओं को रोकने के लिए 24 घंटे ड्यूटी कर रात्रि में गश्त करते समय क्षेत्र के नागरिकों और व्यापारियों के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा करती है और उनसे सुझाव भी मांगती है जिससे वह अपराधों पर लगाम लगा सके । इसके अलावा आएदिन परिसर और नागरिकों की शिकायतों को सुनने के लिए शांति बैठक, मोहल्ला बैठकें और सीनियर सिटीजन्स के साथ भी बैठकों का आयोजन किया जाता है ।

नागपुर शहर के नागरिकों को अपने एरिया के पुलिस स्टेशन के बारे में पुख्ता जानकारी हो, इस उद्देश्य को ध्यान में रखकर नागपुर टुडे ने एक विशेष सीरीज शुरू की है, जिसका नाम – अपने पुलिस स्टेशन को जानिये ‘ है. इसमें पुलिस स्टेशन से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी आम जनता तक पहुंचाने का प्रयास किया जाता है । पुलिस स्टेशन की स्टोरी में आप संबंधित पुलिस स्टेशनों के पुलिस इंस्पेक्टर तक किसी भी आपात स्थिति के दौरान उनसे संपर्क करने के साधन साथ ही क्षेत्र में होनेवाली आगामी योजनाओ के बारे में जानकारी पहुंचाने की कोशिश ‘ नागपुर टुडे ‘ की ओर से की जा रही है ।

– रविकांत कांबळे ,शमानंद तायड़े