Published On : Thu, Jun 25th, 2015

नागपुर : 26 को बजेगी स्कूल की पहली घंटी


काटोल (नागपुर)।
महाराष्ट्र राज्य मार्ग परिवहन महामंडल की ओर से स्थानिय बस स्थानक से यात्रीयों को परिवहन सेवा दी जाएगी. 26 जून से इस सेवा की शुरुवात की जाएगी. यात्रा करनेवालों की संख्या प्रतिवर्ष सात हज़ार के करीब हो गई है. बढ़ती संख्या के चलते इस बस स्थानक के मार्ग पर अधिक मात्रा में परिवहन होता है. काटोल बस स्थानक अंतर्गत आनेवाले सावरगांव, नरखेड़, जलालखेड़ा और कोंढाली में चार नियंत्रण कक्ष है तथा विद्यार्थियों के लिए पास वितरण की सुविधा की गई है.

स्कुल की पहली घंटी 26 जून से बजेगी जबकि 1 जुलाई से पास वितरित की जाएगी. लड़कियों को शासन की ओर से अहिल्याबाई होलकर योजना और मानव विकास कार्यक्रम के अंतर्गत 1 से 12 कक्षा तक मुफ्त में शिक्षा दी जाएगी. पास का फॉर्म भरने और पहचानपत्र के लिए दो से तीन दिन की अवधि लगेगी. मानव विकास कार्यक्रम के अंतर्गत मिलनेवाली पांच नीले रंगो की बसों का समय निश्चित कर लिया गया है. सहायक परिवहन अधिकारी परामंद खोब्रागड़े ने इस सत्र में दो नई स्कुल बस मिलने की जानकारी दी है.

प्रत्येक नियंत्रण कक्ष को सुचना देकर पासेस वितरित की गई है. ग्रामीण विद्यार्थियों की सुविधा के लिए कदम उठाया गया है. विद्यर्थियों को 33 प्रतिशत किराया देकर और तीन महीने की पास के लिए पचास दिन का किराया लिया जाता है. कर्मचारी वर्ग के लिए भी रियायत पास दी जाएगी. इस वर्ष 8 से 10 वाहन चालकों की कमी होने से गर्मियों में अनेक बस फेरियां रद्द की गई. कई कर्मचारी सेवा निवृत्त हो गए. अब तक नए कर्मचारियों की भर्ती भी नहीं हुई जिसके चलते बस फेरियों पर इसका परिणाम हुआ है. विद्यार्थियों ने पास सुविधा का लाभ लेकर सहकार्य करना चाहिए ऐसी अपील की गई है.

परिवहन व्यवस्था के लिए परिवहन निरीक्षक अनीता ठोसर, साह. परिवहन नियंत्रक रमण मनकवडे, वासुदेव गिरडकर, गणेश वानखेड़े, भगवंतराव मोहकर, नरेंद्र राऊत, ओंकार भोयर, अशोक कीटुकले, शंकर वानखेड़े, उमेश शेंडे ने ज़िम्मेदारी ली है.
Ringing bell copy