Published On : Fri, Mar 20th, 2015

कन्हान-पिपरी के नागरिक पी रहे दूषित पानी !


शहर में विगत कई वर्षों से दुषित जलापूर्ति

नागरिकों का आरोग्य खतरे में

कन्हान (नागपुर)। शहर में नगर परिषद आई. लेकिन शासकीय अधिकारी और नए पदाधिकारियों का शहर की मुलभुत समस्याओं की ओर अनदेखी हो रही है. जिससे कन्हान-पिपरी के प्रभाग क्र. 1 और 2 में दुषित जलापूर्ति होने से नगरवासियों का आरोग्य खतरे में है. नगरवासियों को शुद्ध जलापूर्ति करे ऐसी नागरिकों ने की है.

कन्हान-पिपरी नगर परिषद में भाजपा की बहुमतों से सत्ता आई है. नए पदाधिकारियों ने पदग्रहण किया. नगराध्यक्षा आशा पणिकर इस प्रभाग क्र. 3 में तथा उपनगराध्यक्ष डा. मनोहर पाठक ये प्रभाग के प्रतिनिधि है. लेकिन उनकी नगर की मुलभुत समस्याओं की ओर अनदेखी हो रही है. नगरवासियों को स्वतंत्रता के 67 वर्षों बाद भी मैग्नेशियम युक्त क्षारयुक्त पानी पीकर प्यास बुझानी पड रही है. पिने योग्य पानी नही होने से नागरिकों को कमर का दर्द, हाथ और घुटने अस्वस्थ, कमजोरी, खुजली, ऐसी दुषित पानी से होने वाले बिमारी से नागरिकों का आरोग्य खतरे में आया है. कन्हान नदी का पानी कन्हान – पिपरी नगरवासियों को दुषित जलापूर्ति होना शर्म की बात है.

मैग्नेशियमयुक्त क्षारयुक्त दुषित जलापूर्ति से हो रही बिमारी की ओर आरोग्य विभाग ध्यान दे. यहां पिने के पानी की सात टंकिया है. इसमें से 1-2 टंकिया छोड़ बाकि जगह गंदगी का माहोल है. टंकी परिसर में कम्पाउंड नही होने से सुरक्षा की कोई भी उपाय योजना नही है. नदी का सीधा पानी टंकी में और टंकी से नागरिकों को सीधा पिने के लिए आपूर्ति होती है. अनेक बार पाईप लाइन फुटकर दुषित जलापूर्ति होती है.   इस संदर्भ में नागरिकों को तत्कालीन प्रशासक और तत्काल लोकप्रतिनिधि को निवेदन दिया लेकिन उन्होंने उसकी ओर ध्यान नही दिया. नागरिकों के आरोग्य पर ध्यान दे अन्यथा तीव्र आंदोलन करने का इशारा प्रशांत भसार, सोनाली भसार, वर्षा रामगुंडे, वर्षा तिवाडे, ताराबाई ठाकरे, वनिता भोस्कर, संगीता निम्बोने, उज्वला साबरे, कल्पना कुर्वे, विजया येलमुले, रवीना मसार आदि नागरिकों ने किया है.

Representational Pic

Representational Pic

dirty water