Published On : Sat, Dec 15th, 2018

बेरहम : मानसिक रोगी महिला को परिवार ने जामसांवली मंदिर में छोड़ा

एनजीओ ने जिला अस्पताल में भर्ती किया

नागपुर: सौंसर -क्षेत्र के जामसांवली स्थित चमत्कारिक हनुमान मंदिर परिसर में आए दिन मानसिक रोगियों को उनके परिवार के लोग बेसहारा छोड़कर चले जाते हैं. एक सप्ताह पूर्व एक गंभीर रूप से बीमार मानसिक रोग से पीड़ित 35 वर्षीय महिला को भी उसके रिश्तेदार मंदिर परिसर में अकेला छोड़कर चले गए.

मंदिर परिसर में कार्यरत ग्रामीण आदिवासी समाज विकास संस्थान द्वारा संचालित संजीवनी मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के कार्यकर्ताओं ने महिला के खाने पीने की व्यवस्था कर उससे बातचीत की. कार्यकर्ताओं के निरीक्षण में महिला के दाहिने पैर मे सूजन दिखाई दिया. जिसके दर्द के कारण वह तड़प रही थी.


संस्था प्रमुख श्यामराव धवले ने बताया कि संस्था कार्यकर्ताओं ने महिला को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती किया और महिला की जानकारी एसडीएम और पुलिस प्रशासन को दी गई. महिला के पैर में फ्रेक्चर होने के कारण उसे शुक्रवार को जिला अस्पताल छिंदवाड़ा में संस्था कार्यकर्ता अक्षय धूंडे और संध्या चौधरी और स्वास्थ्य केंद्र के अटेंडेट ने उपचार के लिए भर्ती किया गया.

संस्था समन्वयक पंकज शर्मा ने बताया कि महिला ने अपना नाम ममता मन्नु पाटिल और पता बैतूल जिले के बखार चिखली गांव निवासी होने की जानकारी दी. संस्था ने ऐसे पीड़ित मानसिक रोगियों के परिजनों से निवेदन किया कि उन्हें अकेला बेसहारा छोड़कर ना जाएं, उचित उपचार से यह पीड़ित स्वस्थ हो सकते हैं.