Published On : Fri, Jul 12th, 2019

Video: फार्म हाउस की आड़ में चल रहा था नकली शराब बनाने का कारखाना

असली बोतल- नकली शराब का खेल खल्लास

गोंदिया। घटिया सामग्री का इस्तेमाल कर बनाई गई नकली शराब इंसान के लिए ना सिर्फ घातक होती है बल्कि इसके अधिक सेवन से कई बार इंसान अंधत्व का शिकार हो जाता है लेकिन गोंदिया में अब भी कई नकली शराब के कारखाने चल रहे है या यूं कहे कि, गोंदिया नकली शराब का एक प्रमुख केंद्र बन चुका है, तो इस बात में भी कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी?

गोंदिया तहसील से सटे ग्राम पांढराबोड़ी में फार्म हाऊस की आड़ में चल रहे नकली शराब बनाने के कारखाने का पदाफार्श राज्य एक्साईज विभाग द्वारा आज 12 जुलाई को किया गया।

गुप्तचर से राज्य उत्पादन शुल्क विभाग अधिकारियों को यह पुख्ता जानकारी मिली की ग्राम पांढराबोड़ी स्थित दिक्षीत के फार्म हाऊस में अवैध रूप से नकली शराब तैयार की जाती है, जिसके बाद महाराष्ट्र राज्य उत्पादन शुल्क विभाग मुंबई आयुक्त प्राजक्ता लंगवारे, दक्षता व अमल बजावणी विभाग संचालक उषा वर्मा के मार्गदर्शन तथा गोंदिया अधीक्षक प्रवीण तांबे के नेतृत्व में विभाग निरीक्षक सुनिल परले तथा उनकी टीम ने आज शुक्रवार 12 जुलाई को ग्राम पांढराबोड़ी में दिक्षीत के फार्म हाऊस में चल रहे नकली शराब बनाने के कारखाने पर दबिश दी।

कारखाने पर छापा पड़ते ही धमेंद्र नामक आरोपी मौके से फरार हो गया जबकि विभाग अधिकारियों ने सतीश नामक आरोपी को धरदबोचा तथा कारखाने से 100 बातल स्परिट. 180 मिली भरी 886 नकली देशी शराब की बोतलें, फिरकी संत्रा लेबल लगी 1700 खाली बोतलें, 1 बोतल अर्क (सेंट), इलेक्ट्रिक मोटर, 4 पानी की खाली कैन इस तरह 60 हजार 830 रूपये मुल्य की सामग्री जब्त की गई।

इस संदर्भ में संबंधित आरोपियों के खिलाफ महाराष्ट्र शराबबंदी अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। प्रकरण की जांच पोनि सुनील परले कर रहे है।

… रवि आर्य