Published On : Fri, May 26th, 2017

आदिवासी और ग्रामीण छात्रों के लिए इग्नू ने शुरू किए अध्ययन केंद्र

IGNOU PC
नागपुर: 
शिक्षा में इच्छुक लोगों के लिए शिक्षा का अवसर प्रदान करने के लिए इग्नू ने गडचिरोली, यवतमाल और वर्धा जिले के विभिन्न स्थानों पर नए अध्ययन केंद्र शुरू किए हैं. इग्नू के क्षेत्रीय निदेशक डॉ. पी. शिवस्वरूप ने यह जानकारी पत्र परिषद में दी. उन्होंने बताया कि पांच नए केंद्र ग्रामीण आतंरिक भागों में शुरू किए जा रहे हैं. जिनमे वर्धा जिले के वायफड में, गडचिरोली जिले के कुरखेड़ा, यवतमाल जिले के पांढरकवड़ा का समावेश है. साथ ही दो अध्ययन केंद्र नागपुर के हिस्लॉप कॉलेज एवं सेवादल महिला महाविद्यालय में शुरू किए गए हैं. नागपुर में एडवांस स्टैटिस्टिक में स्नातकोत्तर डिप्लोमा, हिन्दुस्तानी संगीत में प्रमाणपत्र, तत्वविज्ञान में एम.ए, विश्लेषणात्मक रसायन शाश्त्र में स्नातकोत्तर डिप्लोमा के पाठ्यक्रम शुरू किए गए हैं. उन्होने बताया कि सांख्यिकी और विश्लेषणत्मक रसायन शास्त्र पाठ्यक्रम नौकरी चाहनेवालों के लिए उत्कृष्ट डिप्लोमा है जो उनकी नौकरी पाने की क्षमता को बढ़ाएगा.

डॉ.शिवस्वरूप ने जानकारी देते हुए बताया कि इग्नू ने अपने पाठ्यक्रम के लिए पूरी प्रवेश प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम से शुरू की है. जुलाई 2017 सत्र के लिए इच्छुक उमेदवार प्रमाणपत्र पाठ्यक्रम, डिप्लोमा पाठ्यक्रम, स्नातकोत्तर डिप्लोमा के पाठ्यक्रम उपाधि पाठ्यक्रम एवं स्नातकोत्तर उपाधि पाठ्यक्रम के लिए ऑनलाइन आवदेन कर सकते है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 जून है. उम्मीदवारों को अपनी पात्रता प्रमाणपत्र (पाठ्यक्रम के अनुसार ) के साथ रंगीन पासपोर्ट फोटो, हस्ताक्षर की स्कैन प्रति अपलोड करनी होगी. विद्यार्थी डेबिट कार्ड के माध्यम से भी फ़ीस का ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं. विद्यार्थियों को तत्काल रसीद और पहचान पत्र मिलेगा एवं अध्ययन सामग्री स्पीड पोस्ट द्वारा भेजी जाएगी. इग्नू के 227 पाठ्यक्रमों का विवरण इग्नू वेबसाइट www.ignou.ac.in पर उपलब्ध है. परीक्षा फॉर्म भी ऑनलाइन ही प्रस्तुत करना होगा. हॉल टिकट, परीक्षा परिणाम भी इग्नू वेबसाइट पर ही उपलब्ध होगी.

उन्होंने साथ ही यह भी बताया कि इग्नू और केंद्रीय विद्यालय दोनों एम.एच.आर.डी भारत सरकार के अधीन है. एक संयुक्त प्रयास में केंद्रीय विद्यालयों की परीक्षा इग्नू केंद्र के रूप में पेश की गई है. नागपुर क्षेत्रीय केंद्र के अंतर्गत नागपुर का वायुसेना नगर, चंद्रपुर और नांदेड़ में केंद्रीय विद्यालय भी 1 जून 2017 से शुरू होनेवाले परीक्षाओं के लिए इग्नू परीक्षा केंद्र होंगे.