Published On : Mon, Nov 2nd, 2020

दुसरो का अतिक्रमण हटानेवाली मनपा के खुद के सैकड़ो बैनर स्टैंड फुटपाथ पर ही बने है

एडवोकेट आशीष कटारिया ने मनपा की कार्यप्रणाली पर उठाएं सवाल

नागपुर– नागपुर महानगर पालिका की ओर से शहर में फुटपाथ पर अतिक्रमण करनेवाले दुकानदारों और सड़क पर सामान बेचकर गुजर बसर करनेवाले और फुटपाथ पर ही सोनेवाले गरीब लोगों पर जोरों शोरों से मनपा के अधिकारी कार्रवाई कर रहे है. रोजाना ट्रकों से सामान जब्त किया जा रहा है.

लेकिन खुद मनपा के ही सैकड़ो बैनर स्टैंड फुटपाथ पर बने हुए है, जिससे मनपा को करोडो रुपए की आवक होती है, जिसके कारण दुसरो का अतिक्रमण तो मनपा को दिख रहा है, लेकिन खुद के द्वारा फुटपाथ पर किए गए अतिक्रमण पर सब ठीक है. इस बारे में शहर के एक जागरूक नागरिक व् एडवोकेट आशीष कटारिया ने जानकारी देते हुए बताया की जिन लोगों ने मनपा के बैनर स्टैंड का टेंडर करीब 3 साल पहले लिया था, उनको अभी और एक्सटेंशन मिला है. लेकिन जबकि अब नए टेंडर निकाले ही नहीं गए है तो नए बैनर स्टैंड आखिर कौन लगा रहा है.यह सवाल उठ रहा है.

एडवोकेट आशीष कटारिया ने कहा की नए बैनर स्टैंड कई जगहों पर लगाए गए है. सदर में भी यह बैनर स्टैंड लगाए गए है. जो की बिलकुल फुटपाथ पर है. उन्होंने एडवरटाइजिंग एजेंसी और मनपा के कर्मचारी के अधिकारियों की मिलीभगत की बात भी कही है.

कटारिया का कहना है की जब देश में और शहर में कोरोना संक्रमण चल रहा है, रोजगार जैसे मुद्दे सामने आ चुके है. ऐसे में फुटपाथ पर दूकान लगाने वाले और रहनेवाले लोगों पर मनपा की ओर कार्रवाई करना कहा तक सही है. कटारिया का कहना है की वे इस बारे में मनपा में आरटीआई के मार्फ़त जानकारी मांगेंगे.