Published On : Mon, Jan 28th, 2019

धूमधाम से मनाया गया बाबा ताजुद्दीन का 157 वां जन्मदिवस

नागपुर: सर्वधर्म समभाव के प्रतीक सूफी संत हजरत बाबा ताजुद्दीन औलिया र.अ. का 157वां जन्मदिन ताजाबाद दरबार, उमरेड रोड में श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया गया. हजरत बाबा ताजुद्दीन ट्रस्ट की ओर से सुबह ट्रस्ट के कार्यालय में महफिल हुई जिसमें प्रमुख रूप से ट्रस्ट के प्रशासक सेवानिवृत्त न्यायधीश गुणवंत कुबडे, ताजाबाद दरबार के सज्जादानशीन जरबीर ताजी व तालिब ताजी, ट्रस्ट के कार्यकारी सदस्य अश्विन बेथारिया, अमानुल्ला खान, राजेंद्र भारती, केयर टेकर शहजादा खान, राहुल मांगले, गुलाम मुस्तफा आदि उपस्थित थे. दस्तारबंदी के बाद बाबा ताज की शान में कव्वाली गाई गई और इस रूहानी माहौल के बीच कार्यालय से बाबा ताज के दरबार में ले जाने के लिए शानदार संदल रवाना किया गया.

Advertisement
Advertisement

संदल में बैंड, धुमाल, घोड़े, दरबारी निशान, ढोल, मलंग, चांदनी आदि शामिल हुए. डीजे पर बाबा ताज की शान में कव्वालियां गूंज रही थीं. यह शाही संदल छोटा ताजबाग होते हुए सक्करदरा चैक, सिरसपेठ, शुक्रवारी, जुम्मा दरवाजा, भालदारपुरा, गांजाखेत- इतवारी, शहीद चैक, चितारओली, लकड़ापुल, चिटणवीस पुरा, जूनी शुक्रवारी का गश्त करते हुए वापस शाम को दरबार पहुंचा जहां बाबा की मजार पर ट्रस्ट की ओर से चादर, फूल पेश किए गए. शाम को सलातो सलाम का नजारा देखने लायक था. 9 बजे मिलाद शरीफ हुई और देश के कई हिस्सों से आए कव्वालों ने बाबा की शान में कव्वालियां पेश कीं. फैजाने ताजुल औलिया संस्था की ओर से रक्तदान शिविर आयोजित किया गया.

Advertisement

शानदार केक पेश किए गए
जन्मदिन के उपलक्ष्य में नागपुर के अलावा आसपास के जिलों और मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, छत्तीसगढ़ से हजारों जायरीन पहुंचे. जायरीनों के लिए सुबह से लेकर देर रात तक दरबारी लंगर चलता रहा. इसमें जन्मदिन के उपलक्ष्य में खीर तकसीम की गई. दूर-दूर से आए लोगों ने बाबा के दरबार में एक से बढ़कर एक व बड़े-बड़े केक पेश किए जिसमें 300 किलो तक के शानदार केक भी शामिल थे. केक काटकर इसका वितरण भी किया गया. इस अवसर पर खुशबू से महकाई गईं चादरें भी पेश की गईं और ट्रस्ट की ओर से जायरीनों को चादरें बांटी गईं.

Advertisement

700 लोगों को चश्मे बांटे
जन्मदिन के एक दिन पूर्व 26 जनवरी को ट्रस्ट की ओर से 700 लोगों को चश्में बांटे गए. चश्मा वितरण के अवसर पर प्रमुख रूप से जिला न्यायधीश शैलेष देशपांडे, न्या. सुनील हाके, न्या. रघुवंशी, न्या. पडवल व ट्रस्ट के प्रशासक गुणवंत कुबडे उपस्थित थे. प्रशासक गुणवंत कुबड़े ने बताया कि ट्रस्ट द्वारा विगत 6 जनवरी को मोतियाबिंद व नेत्रजांच शिविर आयोजित किया गया था जिसमें से चयनित लोगों को चश्में दिए गए. ट्रस्ट द्वारा समय- समय पर जरूरतमदों की आवश्यकता को देखते हुए धर्मार्थ कार्य किए जाते हैं.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement