Published On : Mon, Oct 9th, 2017

जहरीले कीटनाशक से किसानो की मौत के लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हसंराज अहीर ने कृषी वैज्ञानिको से किया विचार-विमर्श


नागपुर: केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री हसंराज अहीर ने आज नागपूर में विदर्भ में कपास की खेती में इस्‍तेमाल हाने वाले जहरीले कीटनाशक के कारण होने वाली किसानो की मौतों को लेकर चिन्‍ता जाहिर करते हुए वरिष्‍ठ कृषि एवं कपास वैज्ञानिकों से चर्चा की और कपास की कम पैदावार पर विमर्श किया । वैज्ञानिकों ने श्री. अहीर को बताया कि कीटनाशक अत्‍याधिक जहरीला होने के कारण वो लोगों की सांसों में घूल रहा है और किसानोके शरीर को नुकसान पहुंचा रहा है । केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री ने वैज्ञानिकों से कहा कि वे किसानों व्‍दारा कीटनाशको के छिडकान को इस्‍तेमाल होने वाले उपकरणों की गुणवत्‍ता की भी बारीकी से जांच करें और किसानों को हाथो में लगने वाले जहरीले कीटनाशक से बचाव के लिए हाथों में पॉलिथिन के दस्‍ताने पहनने की भी सलाह दें । श्री. अहीर ने कहा कि किसानों की कीटनाशक के होने वाली मौत पर दिया जाने वाले मुआवजा भी अपर्याप्‍त है और वो केंद्र सरकार से मुआवजा बढाने की सिफारिश करेंगे । उन्‍होने कहा कि किसानों की मौत का कारण बने कीटनाशक को तत्‍काल प्रभाव से प्रतिबंधित करने के लिए वे केंन्‍द्र से निर्देश जारी करने का अनुरोध करेंगे ।

नारकोटिक्‍स कन्‍ट्रोल ब्‍यूरो पश्चिमी क्षेत्र की नागपुर में पहली बैठक : केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री हसंराज अहीर ने अधिकारियों को सजगता से काम करने के दिए निर्देश केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री हसंराज अहीर ने आज नागपूर में नारकोर्टिक्‍स कन्‍ट्रोल ब्‍यूरों की पश्चिमी क्षेत्रो की बैठक की जिसमें महाराष्‍ट्र, गुजरात मध्‍यप्रदेश के नारकोट्रिकस कट्रोल ब्‍यूरो के अधिकारी शामिल हुए । बैठक में उप महानिदेशक आपरेशन डॉ. आर. पी. सिंह तथा उप महानिदेशक दक्षिण पश्चिम क्षेत्र श्री. एम. के जैन, संयुक्‍त पुलिस आयुक्‍त शिवाजी बोडखे भी मौजूद थे । श्री. अहीर ने बैठक को सम्‍बोधित करते हुए कहा कि युवाओं में बढती नशे की लत चिन्‍ता की बात है और इस पर रोक लगाने के लिए हम सब को मिल कर संयुक्‍त रूप से अभियान चलाना होगा । केंन्‍द्रीय गृह राज्‍यमंत्री ने कहा कि नशे के खिलाफ अभियान चलाने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य सामाजिक न्‍याय और गृह विभाग को एक साथ मिलकर अभियान चलाना है । श्री. अहीर ने कहा कि आज देश में युवाओं की संख्‍या चीन से ज्‍यादा है । लेकिन विदेशी ताकतें हमारे देश को कमजोर करने के लिए उन्‍हे नशे की लत का शिकार बनाने का प्रयास कर रही है । उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान पंजाब में युवाओं को नशे का आदी बनाने के लिए उन्‍हे नशे का शिकार बनाया है । देशको नशा मुक्‍त बनाने के लिए जरूरी है कि युवाओं को नशे से दूर रखे उन्‍होंने कहा कि एक परिवार में यदि एक बच्‍चा इसका भी का आदी होता है तो पूरा परिवार प्रभावित होता है हमें पूरे परिवार को सुरक्षित रखना है ।


श्री. अहीर ने नारकोटिक्स अधिकारियोंको निर्देश दिए कि समाज में नशे का व्‍यवसाय करने वालों केा ढूंढ निकालने के लिए उनका पूरा नेटवर्क खोजना होगा । उन्‍होंने नारकोटिक्सअ के अधिकारियों व्‍दारा किए जा रहे कार्योकी सहराहना करते हुए कहा कि आप लोग जो कार्य कर रहे हैं वो सराहनीय है लेकिन हमें आपसे और बेहतर की अपेक्षा है . इस काम में स्‍थानीय पुलिस का भी अधिक से अधिक सहयोग लिया जा सकता है। बैठक से पहले श्री अहीर ने नागपुर के विभिन्न स्कूल कॉलेजों के प्राचार्यों के प्रतिनिधियों से भी चर्चा की और लोगों से सुझाव मांगे जिस पर लोगों ने केंद्रीय गृहराज्य मंत्री को अनेक महत्वपूर्ण सुझाव दिए जिसमें कहा गया कि स्कूल में बच्चों के बैग का आकस्मिक निरीक्षण किया जाना चाहिए । लोगोंने इस संदर्भ मे सुझाव देते हुए कहा, स्कूल कालोजों के बाहर लगने वाली पान की दुकानों तथा गोली बिस्कुट की दुकानों को तत्काल हटाना होगा और ऐसे नियम बनाने होंगे कि दुकानों दुबारा न लग सके। लोगों का सुझाव था कि पल्स पोलियो अभियान की तरह इसके भी लिए एक व्यापक राष्ट्रस्तरीय अभियान चलाने की आवश्यकता है।