Published On : Fri, Nov 14th, 2014

वरोरा: शारिरीक विकृतियों के लिए वरदान बना आनंदवन का हैंड सर्जरी कैंप


warora anandwan
वरोरा (चंद्रपुर)
: इंसानी जीवन में किसी दुर्घटनावश शरीर पर आई विकृतिया पुरे जीवन में मानसिक बोझ जैसी होती है. ऐसा बोझ लेकर जीनेवालों के लिए आनंदवन में विशेष शल्यक्रिया शिविर का आयोजन 9 से 16 नवंबर के दरमियान किया गया इस शिविर में कुल 60 लोग दाखिल हुए थे जिसमें एक साल के बच्चे से बुजुर्ग व्यक्ति का समावेश है. अभी तक 42 लोगों की विकृतियों पर शल्यक्रिया पूरी होकर बचे लोगों पर शल्यक्रिया की जा रही है. चैरिटी हैंड्स फॉर लाइफ, इंग्लंड एवं महारोगी  समिति, आनंदराव के संयुक्त तत्वधान में इस शिविर का आयोजन सन 2000 से किया जा रहा है जिसमे अभीतक 600 से ज्यादा संकीर्ण विकृतियों पर शल्यक्रिया द्वारा इलाज किया जा चुका है.

जलने, कटने से एवं जन्मता आई विकृति,गांठ या कृष्ठरोग के कारण हाथ पैर उंगलियों के टेढ़ेपन पर शल्यक्रिया द्वारा किये जा रहे है उपचार के कारण यह शिविर ऐसे लोगों के लिए वरदान साबित हो रहा है. इस शिविर के प्रमुख आयोजक डॉ. अश्विनीकुमार पावड़े ने कहा इंग्लंड चैरिटी हैंड्स फॉर लाइफ इस पंजीकृत संस्था द्वारा इस शिविर का आयोजन एवं खर्च किया गया. आनंदवन की सेवा से प्रेरित होकर इस संस्था के डॉक्टर,सहाय्यक नर्स एवं एनेस्थेटिस्ट यहाँ पर निरंतर रूप से कार्यरत है. इस संस्था के डॉ.एडम गुडविन,डॉ. जो डियास, प्रो. विवियन लिस,डॉ. अश्विनीकुमार पावड़े, एनेस्थेटिस्ट डॉ. विजय कुलकर्णी,डॉ. जॉन विल्सन,नर्स हेदर ब्राडबरी, कैथरीन डियास,सहायक जनटे, तथा चिकिस्क प्रशिक्षक रीमा, पॉल क्लीं एवं एम स्पेक्टर शिविर की सफलता हेतु कार्यरत होकर आनंदवन डॉ.पोल इस शिविर के आयोजन पर ध्यान रखे हुए है.