Published On : Mon, Nov 19th, 2018

अन्याय के खिलाफ हलबा आंदोलनकारियों ने फोड़ी नागपुर में बसें

नागपुर. हलबा समाज के लोगों पर हो रहे अन्याय के खिलाफ पिछले 4 दिन से शहर में आंदोलन चल रहा है. आंदोलनकारी अनशन पर बैठे हैं. जाति प्रमाणपत्र देने के लिए सरकार द्वारा लगाई गई शर्त रद्द करने और स्वतंत्र विदर्भ राज्य की मांग को लेकर सोमवार को हलबा आंदोलनकारियों ने बसों पर पथराव किया. सेंट्रल एवेन्यू रोड और गंगाबाई घाट के समीप बसों पर हुए पथराव से कुछ समय के लिए तनाव की स्थिति बन गई और नागरिक दहशत में आ गए. इससे साफ है कि अब हलबाओं का आंदोलन उग्र हो रहा है. पिछले 4 दिनों से गांधीबाग स्थित कुंभारे स्मारक के समीप हलबा समाज के नेता आंदोलन कर रहे हैं.

विभिन्न सामाजिक संगठन और राजनीतिक लोगों ने भी आंदोलन को समर्थन दिया है. सोमवार की दोपहर 12.40 बजे के दौरान अचानक 5 से 6 आंदोलनकारियों ने सेंट्रल एवेन्यू रोड पर आपली बसों को निशाना बनाया. महावीर चौक के समीप बाइक पर सवार युवकों ने एम.एच. 40- एफ.सी. 0940 नंबर की बस रोकी. बैट से बस के सामने के कांच फोड़ दिए. एक युवक ने ईंट से कांच फोड़ा. कुछ ही देर में एम.एच. 40-बी.जी. 1081 नंबर आजमशाह चौक के पास से जा रही थी. यहां भी युवकों ने बस पर बैट और ईंट से प्रहार कर कांच फोड़ दिए.

अचानक हुई इस तोड़फोड़ से बस में बैठे नागरिक घबरा गए. किसी को चोट तो नहीं पहुंची, लेकिन बस का नुकसान हुआ. यहां से भागते हुए बाइक पर सवार युवकों ने गंगाबाई घाट के समीप एक बस को निशाना बनाया. एम.एच. 31- ए.सी. 0424 नंबर की बस के चालक ने सवारी उतारने के लिए गंगाबाई घाट बस स्टाप पर वाहन रोका. सवारियां उतर ही रही थीं कि युवकों ने बस के कांच फोड़ दिए. तीनों बसें फोड़ने में उन्हीं बाइक सवार युवकों का समावेश है. कोई बाइक का नंबर न नोट कर पाए. इसके लिए आंदोलनकारियों ने नंबर प्लेट पर सफेद कागज चिपका रखा था. लकड़गंज और कोतवाली पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच आरंभ की है.