Published On : Sun, Mar 15th, 2015

धामणगांव में गिरे ओले


रबी की  बची फसल भी बर्बाद

15 Dhamangaon 1
धामणगांव रेलवे (अमरावती)। मौसम की मार से पहले ही परेशान किसानों पर फिर एक बार मुसीबत बनकर ओले टुट पड़े. रविवार को दोपहर 3 बजे तहसील में आंवले के आकार के ओले गिरे. यह ओलावृष्टी लगातार दस बारह मिनट तक होती रही. सबरे से ही यहां का वातावरण बदरिला था लेकिन दोपहर होते होते बादल बरस पड़े. बेमौसम की इस बारिश के साथ जमकर ओलावृष्टी होने से किसानों के माथे पर बल बड़ गए. खेतों में खडी बची खुची रबी की फसले भी ओलों की मार से सो गई. चना गेंहु की फसलों को इस बारिश व ओलों ने बर्बाद कर दिया है.

संतरे को भी क्षति
तहसील के वाठोड़ा, वसाड़, कावली, दागाडा, शहापुर जुना धामणगांव इन गांव को इस ओलावृष्टी से भारी नुकसान हुआ है. यह गांव संतरे पट्टे के रुप में पहचाना जाता है. ओलों के कारण यहां के किसानों की कमर भी अब पुरी तरह टुट गई है. सरकार अब इन किसानों को मदद मुहैय्या करवाए ऐसी मांग किसान कर रहे है.