Published On : Thu, Jan 8th, 2015

अकोला : ओलावृष्टि 105 हेक्टेयर फसल चौपट


अकोला।
विगत 31 दिसंबर को हुई बेमौसम बारिश तथा ओलावृष्टि की वजह से पातूर तहसील में 105 हेक्टेयर कृषि क्षेत्र का नुकसान हुआ है . साथ ही 400 आम के पेड तूफानी हवा के कारण धराशाई हुए. इसके अलावा बालापुर तहसील के 10 मकान क्षतिग्रस्त हुए थे. इस आशय का ब्यौरा तहसील स्तर से जिलाधिकारी कार्यालय को प्राप्त हुआ है, जो जिलाधिकारी की मंजूरी के बाद विभागीय आयुक्त कार्यालय की ओर भेजा जाएगा.

अकोला जिले में 31 दिसंबर व 1 जनवरी को हुई बेमौसम बारिश तथा ओलावृष्टि की वजह से बालापुर एवं पातूर तहसील में नुकसान हुआ. पातूर तहसील में गेहूं, चना, प्याज चने की फसल बर्बाद हुई. पातूर तहसील में 590 हेक्टेयर कृषि क्षेत्र पर की गेहूं, चना, प्याज एवं सब्जियों की फसल का 50 प्रतिशत से कम नुकसान हुआ है, जबकि 105 हेक्टेयर कृषि क्षेत्र पर की फसल का 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान हुआ है. कुलमिलाकर बेमौसम बारिश की मार 967 किसानों पर पडी है. आधारसांगवी गांव में 5 हेक्टेयर प्याज की फसल चौपट हुई, जबकि शिर्ला में 17 हेक्टेयर प्याज एवं 13 हेक्टेयर पर की सब्जियों की फसल बर्बाद हुई. वही मौजे शिर्ला में तेज हवा के कारण 400 आम के पेड जमीनदोज हुए. पिंपलखुटा में 7 हेक्टेयर प्याज, शिरपुर में 10 हेक्टेयर प्याज, चांगेफल में 7, पातूर – में 6, टाकली खेट्री में 10 तथा चतारी में 10 हेक्टेयर प्याज की फसल का 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान हुआ है.

इसी प्रकार खेट्री में 10 हेक्टेयर सब्जियों की फसल चौपट हुई . उक्त ब्यौरा तहसील स्तर से जिलाधिकारी कार्यालय को सौंपा गया है, जो अंतिम मंजूरी के बाद विभागीय आयुक्त कार्यालय की ओर भेजा जाएगा. इसके अलावा बालापुर तहसील में जो मकान क्षतिग्रस्त हुए उनके मालिकों को सानुग्रह अनुदान के तहत सहायता दी गई है, ऐसी जानकारी प्राप्त हुई है .
fasal