Published On : Sat, Apr 6th, 2019

झूलेलाल मैराथन में उमड़ा जनसैलाब

गोंदिया: शरीर को तंदुरूस्त और दिमाग को चुस्त रखने के लिए सुबह की सैर , व्यायाम तथा योगा बेहद जरूरी है। अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहकर ही हम शरीर को सदैव फिट रख सकते है। इस उद्देश्य से प्ररित होकर सिंधी जनरल पंचायत गोंदिया द्वारा झूलेलाल मैराथन का आयोजन चेट्रीचंड्र (सिंधी दिवस) अवसर पर शनिवार 6 अप्रैल सुबह 7 बजे किया।

कार्यक्रम का शुभारंभ 40 फिट ऊंचा भगवा ध्वज फहराकर तथा संत कंवरराम मंदिर में दीप प्रज्वलन व पूजन के साथ किया गया। मैराथन रैली को संस्था अध्यक्ष साजनदास वाधवानी तथा महिला समिति अध्यक्षा तमन्ना भागवानी ने झरीझंडी दिखायी।


दशहरा मैदान से शुरू हुई मैराथन रैली में पुरूषों ने सफेद टी-शर्ट तथा सिर पर हरे रंग की टोपी धारण कर रखी थी वहीं महिलाओं ने सफेद रंग का सलवार-सुट व भगवा रंग का दुपट्टा तथा केसरिया रंग की कैप धारण कर रखी थी। मैराथन रैली शहर के प्रमुख मार्गो का भ्रमण कर वापस दशहरा मैदान पर पहुंची। इस रैली में लगभग 2 हजार से अधिक सिंधी समाज के युवक-युवतियों, महिलाओं, बच्चों व बुजुर्गो ने हिस्सा लिया। रैली में शामिल होने वाले प्रतियोगियों के टी-शर्ट पर लक्की नंबर अंकित था इसी आधार पर 10 भाग्यशाली प्रतियोगियों का चयन ड्रा कूपन निकालकर किया गया तथा भाग्यशाली विजेताओं को अतिथियों के हस्ते स्मृति चिन्ह प्रदान किए गए। कार्यक्रम के सफलतार्थ पूर्व अध्यक्ष जिंयदराम आयलानी, मनोहर आसवानी, समाज सेवी राजकुमार नोतानी, अनिल हुंदानी, अनिल गंबानी, रवि आर्य, विनोद बसंतवानी, सोनु नागदेव तथा महिला समिति अध्यक्षा तान्या भागवानी, किर्ती आहुजा, एड. अनिता दास. तमन्ना मतलानी, सपना आहुजा, पूनम वाधवानी, चंद्रा लालवानी आदि ने अथक प्रयास किया।

बहिराणा साहब का रथ भ्रमण हेतु निकला
झूलेलाल जयंती के पावन अवसर पर गोंदिया के प्रेम प्रकाश आश्रम परिसर से शनिवार 6 अप्रैल सुबह 10 बजे वरुणदेवता इष्टदेव झूलेलालजी की अखंड ज्योति पुरी श्रद्धा और उमंग के साथ प्रज्वलित की गई।

इस अवसर पर सांई टेंऊराम दरबार के संत लक्कीसांई महाराज, सिंधी नवयुवक सेवा मंडल अध्यक्ष अनिल हुंदानी, पुज्य सिंधी जनरल पंचायत अध्यक्ष साजनदास वाधवानी, पूर्व अध्यक्ष महेश आहुजा, मनोहर आसवानी, जियंदराम आयलानी, तोलाराम मानकानी, सुनील चावला, राम लालवानी व गणमान्यों की उपस्थिती में विधिवत पूजा-अर्चना पश्‍चात अखंड ज्योति को फूलों से सजे बहिराणा साहब के रथ में विराजमान किया गया तथा बहिराणा साहब की शोभायात्रा दर्शनों हेतु निकल पड़ी।

बहिराणा साहब के रथ के आगे प्रमुख चौराहों पर सिंधी शेज (डांडिया) खेलकर रथ का स्वागत किया गया। बहिराणा साहब के रथ की अगुवाई बैंडबाजों के सुमधूर धूनों के साथ करते हुए यह शोभायात्रा मंडल कार्यालय से माताटोली, नीलगल्ली चौक, हेमु कॉलाणी चौक, माता मंदिर रोड, भवानी चौक, शंकर चौक, मढ़ी चौक, श्रीनगर मार्ग से भाऊदास चौहान चौक, बब्बाभवन, निरंकारी भवन, चुड़ामन चौक, सूरजमल बगीचा, दशहरा मैदान, सिंधी मनिहारी धर्मशाला परिसर से होते हुए शंकर चौक पहुंची, यहां से शाम 5 बजे बहिराणा साहब का रथ भव्य शोभायात्रा में शामिल होगा।

अखंड ज्योति के दर्शनों हेतु तांता लगा
वरुण देवता इष्टदेव झूलेलालजी की अखंड ज्योति के दर्शनोें हेतु सुबह से ही महिला, पुरूष, बुुजुर्ग, बच्चे, युवा इष्टदेव के समक्ष शीष झूकाकर अखंड ज्योति का दर्शन कर सांई का आर्शिवाद गृहण कर रहे है। इस दौरान दर्शनों हेतु आए श्रद्धालुओं को सेसा (कढ़ाव) प्रसाद का वितरण किया गया। रथ यात्रा भ्रमण के प्रमुख मार्गो पर विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा अल्पोहार, शरबत, छांछ, जूस, फल आदि वितरण की व्यवस्था भी रखी गई।

शंकर चौक से बाइक रैली निकली
शनिवार 6 अप्रैल के दोप. 12 बजे स्थानीय सिंधी कॉलोनी के शंकर चौक से हाथों में भगवा कलर के ध्वज लेकर तथा सिर पर आयोलाल-झूलेलाल की टोपी धारण कर युवाओं की भव्य मोटर साइकिल (स्कूटर) रैली निकाली गयी। डी.जे रथ की धूनों पर सिंधी शेज नृत्य करते हुए रैली में शामिल सैकड़ों युवकों ने प्रमुख चौक चौराहों पर उत्साह बढ़ाते हुए सिंधी दिवस अमर रहें, आयोलाल-झूलेलाल, सिंधी बोली-अबाणी बोली जैसे नारों के साथ जयघोष किया। बाइक रैली शहर के उत्तर और पूर्व क्षेत्र का नगरभ्रमण करते हुए सिंधी कॉलोनी परिसर पहुंची जहां रैली में शामिल युवकों के बीच पुरस्कारों का वितरण किया गया।

 

 

 

 

 

 

रवि आर्य