Published On : Fri, Apr 2nd, 2021

नागपुर में मनाया जा रहा है गुड फ्राइडे, पीएम मोदी ने ट्वीट कर ईसा मसीह के संघर्षों को किया याद

नागपुर– आज गुड फ्राइडे का त्योहार है. प्रभु ईसा मसीह की याद में इस दिवस को मनाया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर ईसा मसीह को याद किया. ट्वीट कर पीएम मोदी ने कहा, ”गुड फ्राइडे हमें ईसा मसीह के संघर्षों और बलिदानों की याद दिलाता है. दया का एक आदर्श अवतार जो जरूरतमंदों की सेवा करने और बीमारों को मदद करने के लिए समर्पित थे.” गुड फ्राइडे के मौके पर चर्च में विशेष प्रार्थाना सभाएं आयोजित की गई है. यह पर्व पूरी दुनिया भर में मनाई जा रही है. नागपुर शहर में भी गुड फ्राइडे मनाया गया.

गुड फ्राइडे का पर्व ईस्टर संडे से पहले आने वाले शुक्रवार को आता है. इस पर्व को प्रभु यीशु के बलिदान के तौर पर भी याद किया जाता है. ईसाई धर्म के अनुयायी काफी पहले से इसकी तैयारी शुरू कर देते हैं. इस दिन चर्चों में प्रभु यीशु के बलिदान को याद किया जाता है.

यीशु मसीह को सूली पर लटका दिया गया था
बता दें कि रोम के राजा के आदेश पर कलवारी में शुक्रवार को यीशु मसीह को सूली पर लटका दिया गया था. राजा ने ऐसा इसलिए किया था कि अंधविश्वास और झूठ फैलाने वाले धर्मगुरुओं को यीशू की बढ़ती लोकप्रियता से परेशानी होनी लगी थी.

यीशू के विचार लोगों को प्रभावित कर रहे थे. इन सब को देखकर कुछ स्वार्थी लोगों ने बादशाह को भड़काना शुरू कर दिया. जिसके बाद प्रभु यीशु को सूली पर टांगने का आदेश दिया गया. प्रभु यीशु ने अपना संपूर्ण जीवन लोगों के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया था.गुड फ्राइडे के तीसरे दिन यानी रविवार के दिन प्रभु यीशु फिर से जीवित हो गए थे और 40 दिन तक लोगों के बीच जाकर उपदेश देते रहे. प्रभु यीशु के दोबारा जीवित होने की इस घटना को ईस्टर संडे के रूप में मनाया जाता है.