Published On : Tue, Apr 23rd, 2019

गोंदिया- महिला की खून सन्नी लाश मिली

हथियार बरामद, फरार आरोपी को खोज रही पुलिस

गोंदिया: अपने खेत में महुआ फुल चुनने हेतु गई महिला की खून सन्नी लाश सोमवार 22 अप्रैल के शाम मिलने से गोरेगांव तहसील के ग्राम आंबेतालाब में खलबली मच गई।

जंगल से मवेशी चराकर गांव की ओर लौट रहे चरवाहे ने खेत में महिला की रक्तरंजित लाश देखी जिसकी जानकारी उसने ग्रामवासियों को दी और मामले से गोरेगांव थाने को अवगत कराया गया।


मृतका की शिनाख्त डिलेश्‍वरी बघेले (42 रा. आंबेतालाब) के रूप में की गई। महिला के सिर पर गंभीर चोट के निशान पाए गए तथा उसके मुंह से भी रक्त निकल रहा था। घटनास्थल से 30-40 फिट दूरी पर पुलिस ने हमले में इस्तेमाल खून सन्नी लाठी बरामद कर ली है।

उपविभागीय पुलिस अधिकारी जालिंदर नालकुल ने वारदात के संदर्भ में जानकारी देते बताया, मृतका डिलेश्‍वरी और आरोपी छगनलाल का घर गांव में आसपास है तथा दोनों के खेत भी आपस में लगे हुए है। मृतक महिला दोपहर 2 बजे खेत में महुआ के झाड़ों से महुआ फूल चुनने हेतु गई थी। आरोपी अभी फरार है इसलिए यह पता नहीं चल पा रहा है कि, उसने कत्ल क्यों किया? लेकिन बाहर से जो जानकारी मिल रही है, उसके अनुसार दोनों में अच्छी दोस्ती और जान पहचान थी। महिला के शव के पास 4-5 लाइन लिखा हुआ नोट बरामद हुआ है जिसमें मैं भी जहर खाकर मरूगां और बचुंगा नहीं? इस प्रकार के शब्दों का वर्णन है। लगता है आरोपी की ही यह लिखावट होगी? और उसने कत्ल को आत्महत्या का रूप देने के उद्देश्य से पुलिस की जांच को भटकाने का प्रयास किया है।

प्रारंभिक जांच में यह जानकारी मिल रही है कि, मृतक 42 वर्षीय महिला के पति का देहांत कुछ वर्ष पूर्व ही हुआ है तथा वह खेती के अलावा आंगणवाड़ी में मददनीस के तौर पर खिचड़ी बनाने का कार्य करती थी। उसके 2 बच्चे है जिसमें से एक बेटी की शादी हो चुकी है तथा बेटा नागपुर में पढ़ रहा है।

बहरहाल स्पॉट पंचनामा पश्‍चात लाश पोस्टमार्टम हेतु अस्पताल भेज दी गई है। इस प्रकरण के संदर्भ में फिर्यादी लेकराम भैराम की शिकायत पर फरार आरोपी छगनलाल के खिलाफ धारा 302 मर्डर का जुर्म दर्ज कर उसकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है।

– रवि आर्य