Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Jul 22nd, 2019

    गोंदिया – बर्थडे की खुशियां मातम में बदली

    दोस्तों के साथ पार्टी मनाने गए युवक की हाजरा फाल में डूबकर मृत्यु

    गोंदिया: महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ की सीमा पर गोंदिया जिले के सालेकसा तहसील के दर्रेकसा सुरंग के नजदीक मशहूर पिकनिक प्वाइंट हाजरा फॉल की खूबसूरत वादियों में अपना बर्थडे सेलिब्रेट करने का निर्णय हेमंत लाटे ( 18 , मरारटोली , गोंदिया ) ने लिया तथा अपने 3 साथियों के साथ दुपहिया पर सवार होकर रविवार शाम 4:0 बजे हाजरा फाल पहुंचा , पार्टी मनाने के बाद इन युवकों को नहाने की सूझी जब वे गिरते झरने और झील के रूप में जमा पानी की ओर बढ़ रहे थे तो वहां तैनात वनरक्षक और सुरक्षा गार्डों ने उन्हें ऐसा करने से रोका।

    फिर नजर बचाकर चारों युवक दाएं छोर से पहाड़ी के ऊपर चढ़ गए तथा अपने मोबाइल कैमरे से अलग-अलग पोज में सेल्फी लेने लगे। कुछ देर पश्चात वहीं चट्टान पर हाजरा फॉल लिखा हुआ नजर आया यह सभी युवक उसके करीब पहुंच गए और इसके चुंबकीय आकर्षण में बंधकर पास मौजूद 20 फिट के 2 डोह जिसमें पानी जमा था उस में नहाने के लिए बर्थडे सेलिब्रेट कर रहा हेमंत लाटे और उसका एक साथी पानी में उतरा , हेमंत पानी की गहराई में थोड़ा आगे डोह और बढ़ गया और गहराई में डूबने लगा यह नजारा देख उसका साथी हेमंत को बचाने पानी में आगे बढ़ा , उसे तैरना नहीं आता था सो वह भी डूबने लगा जिस पर उसके दो साथियों ने उसे बाहर खींच लिया जिससे उसकी जान बच गई लेकिन हेमंत को नहीं बचाया जा सका।

    घटना की जानकारी जिला शोध बचाओ पथक और सालेकसा पुलिस थाने को दी गई। सालेकासा थाना प्रभारी राजकुमार डुणगे के नेतृत्व में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया लेकिन रात होने से सफलता हाथ नहीं लगी आज सुबह फिर स्थानीय मछुआरों और जिला शोध बचाव दल ने रेस्क्यू सर्च ऑपरेशन चलाते सुबह 10 बजे पानी की गहराई से हेमंत की लाश को खोज निकाला स्पाट पंचनामा पश्चात पुलिस ने लाश , शव विच्छेदन हेतु अस्पताल भेज दी है इस प्रकरण के संदर्भ में पुलिस ने आकस्मिक मौत का मामला पंजीबद्ध किया है।

    गौरतलब है कि हाजरा फॉल जो अपनी सुंदरता और जलप्रपात के लिए प्रसिद्ध है । हरे-भरे घने जंगलों के बीच पहाड़ी की ऊंचाई से झरना गिरता हुआ दिखता है , पास जाने पर ठंडे पानी की फुहारें शरीर को भिगो देती है लिहाजा वर्षा ऋतु मैं यहां के अलौकिक व प्राकृतिक सौंदर्य को निहारने आसपास के पर्यटक और सैलानी बड़ी संख्या में पहुंचते हैं रविवार अवकाश का दिन होने से यहां सभी पिकनिक प्वाइंट का मजा उठा रहे थे कि इसी दौरान यह दर्दनाक हादसा सामने आया जिससे बर्थडे की खुशियां मातम में बदल गई।

    सेल्फी खींचने के मोह से खुद को दूर रखें-जिलाधीश गोंदिया की जिलाधिकारी डा.कादंबरी बलकवड़े ने आम जनता से यह अपील जारी की है कि अधिकांश हादसे ऐसे फिसलन भरे स्पाट पर पहाड़ी के ऊपर चढ़कर सेल्फी खींचने के मोह मैं घटित होते हैं लिहाजा जब भी बारिश शुरू हो या बहाव तेज हो तो ऐसे स्थानो से दूरी बनाए रखें साथ ही खुद को तैरना नहीं आता तो ऐसी अनजान जगहों से दूरी बनाकर रखने में ही भलाई है।

    रवि आर्य

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145