Published On : Wed, May 5th, 2021

गोंदिया: मेडिकल अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट इसी हफ्ते शुरू होगा

अदानी पावर ने बढ़ाए मदद के हाथ , नहीं होगी लिक्विड ऑक्सीजन की कमी

गोंदिया भारत में बढ़ते कोरोना वायरस को देखते हुए कई बड़े उद्योग घराने सरकार को मदद पहुंचाने में जुटे हैं ऐसी ही एक पहल अदानी समूह की ओर से गोंदिया जिले में की गई है। सांसद प्रफुल्ल पटेल की अनुशंसा पर अदानी फाउंडेशन की ओर से सीएसआर निधि अंतर्गत लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट का अचीवमेंट जिला अस्पताल को मिला है। लिक्विड ऑक्सीजन संयंत्र के निर्माण का कार्य प्रगति पथ पर ओर अपने अंतिम चरणों में हैं , अगले दो-चार दिनों में यहां ऑक्सीजन प्लांट तैयार हो जाएगा इसका फायदा होगा कि जिला केटीएस और गोंदिया मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी खत्म हो जाएगी।

सूबे का सबसे बड़ा शासकीय अस्पताल ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहा था ?
गौरतलब है कि गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज के 4 वार्ड तथा जिला केटीएस अस्पताल के 2 वार्ड ऐसे कुल 6 वार्डों को कोविड उपचार हेतु तब्दील किया गया है और इनमें लगभग 275 मरीजों का इलाज किया जाता है , सूबे के सबसे बड़े शासकीय अस्पताल परिसर में लिक्विड ऑक्सीजन टैंक प्लांट बैठाने के निर्देश सांसद प्रफुल्ल पटेल ने अदानी पावर को जारी किए थे , जिसके बाद सीएसआर निधि अंतर्गत अदानी पावर कंपनी यह कोरोना को हराने में जोर-शोर से जुट गई तथा अस्पताल परिसर में जगह को चिन्हित करने के बाद गत 2 सप्ताह से तज्ञ विशेषज्ञ और इंजीनियरों की टीम मुस्तैदी से 13000 केएल क्षमता के ऑक्सीजन संयंत्र को बिठाने और इसके निर्माण कार्य में जुटी है ।


प्लांट लगने से यहां ऑक्सीजन की कमी खत्म हो जाएगी और आक्सीजन सिलेंडरों की किल्लत से शासकीय अस्पताल को जूझना नहीं पड़ेगा , साथ ही आज के समय में जो इलाज को लेकर आ रही ऑक्सीजन की कमी की समस्या के चलते जो मरीज और परिजनों के मन में तनाव रहता है वह भी कम हो सकेगा।

पालक मंत्री और कलेक्टर ने किया ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण
रविवार 2 मई को गोंदिया जिले के दौरे पर आए पालक मंत्री नवाब मलिक यह शासकीय अस्पताल परिसर पहुंचे तथा ऑक्सीजन संयंत्र का निरीक्षण करते हुए इसकी मदद से जितनी जल्दी हो सके आक्सीजन आपूर्ति करने के निर्देश दिए।

मौके पर मौजूद गोंदिया कलेक्टर दीपक कुमार मीणा ने निर्माणाधीन संयंत्र के जल्द शुरू होने का भरोसा दिया , इस अवसर पर गोंदिया मेडिकल अस्पताल के डीन डॉ. नरेश तिरपुड़े तथा अदानी फाउंडेशन के नितिन शिरोडकर सहित स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के कई प्रमुख अधिकारी और एनसीपी नेता गण मौजूद थे ‌।

विशेष उल्लेखनीय है कि गोंदिया- भंडारा जिले को ऑक्सीजन की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित करने के प्रयास संसद प्रफुल्ल पटेल द्वारा किए जा रहे हैं , इसी बीच एक ऑक्सीजन निर्माण कंपनी ने टैंकरों की मदद से 60 टन लिक्विड ऑक्सीजन की आपूर्ति की है।

अदानी ग्रुप द्वारा जिला अस्पताल में निर्माणाधीन ऑक्सीजन संयंत्र के काम को जल्द से जल्द पूरा करने और ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए पूर्व विधायक राजेंद्र जैन यह अथक प्रयास कर रहे हैं।

पूर्व विधायक जैन ने बताया – यह संयंत्र जल्द ही पूरी क्षमता से चालू हो जाएगा इसके साथ ही इस प्लांट से जिला केटीएस तथा गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की समस्या स्थाई रूप से समाप्त हो रही है।

रवि आर्य