Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Apr 17th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार अलर्ट पर – अनिल देशमुख

    वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गोंदिया जिले के हालात का लिया जायजा

    गोंदिया: राज्य के गृह मंत्री तथा जिले के पालकमंत्री अनिल देशमुख ने 16 अप्रैल को वीडियो क्रान्फ्रेंस के माध्यम से जिले में कोरोना रोकथाम हेतु किए जा रहे उपायों के संदर्भ में जानकारी लेते हुए वायरस का संक्रमण जिले के किसी भी नागरिक में ना फैले इसके लिए विशेष सावधानी बरतते हुए निवारक उपायों को सख्ती से लागू करने के निर्देश जिला प्रशासन को दिए। पालकमंत्री ने जिला प्रशासन की सतर्कता और वैद्यकीय यंत्रणा के समय पर उचित उपचार से गोंदिया शहर के एकमात्र कोरोना पॉजिटिव मरीज के स्वस्थ होकर घर लौटने पर उनका अभिनंदन किया।

    बिना कारण घरों से बाहर निकलने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए तथा जिले में लॉकडाउन का सभी ने पालन करना चाहिए, अतिआवश्यक काम के लिए सार्वजनिक स्थानों पर जाने के लिए नाक और मुंह को मास्क अथवा साफ-सुथरे रूमाल, गमछे आदि से कवर करें तथा सुरक्षित सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील पालकमंत्री ने जिले की जनता से की।

    चौराहे पर तपती धूप नहीं, ग्रीन शेड की छांव मिलेगी
    नाकाबंदी पर सेवा देने वाले पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए पुलिस विभाग द्वारा तैयार किए गए ग्रीन शेड की भी उन्होंने प्रशंसा की साथ ही जिले में फिल्ड पर रहने वाले सभी पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों के लिए भी ग्रीन शेड उपलब्ध कराने के निर्देश पालकमंत्री ने जिला पुलिस अधीक्षक को दिए।

    वेंटिलेटर खरीदने के लिए निधि और 200 होमगार्ड की है जरूरत
    जिलाधिकारी डॉ. कादंबरी बलकवड़े ने पालकमंत्री को जानकारी देते बताया, जिले में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए निवारक उपाय योजना के तौर पर अतिआवश्यक सेवाएं शुरू की गई है। भीड़ को रोकने हेतु जीवनावश्यक वस्तुएं घर पहुंच सेवा के माध्यम से शुरू है, नागरिकों की विभिन्न समस्याओं के निराकरण के लिए जिला प्रशासन व पुलिस विभाग की ओर से 24 घंटे नियंत्रण कक्ष, व्हॉटसअप हेल्पलाइन नंबर तथा स्वास्थ्य संबंधी शंका के समाधान के लिए जिला परिषद गोंदिया में 24 घंटे डॉक्टरों की सेवा हेल्पलाइन के माध्यम से उपलब्ध करायी गई है।

    जिलाधीश ने कोविड नमूनों की जांच के लिए प्रयोगशाला स्थापित करने, वेन्टिलेटर खरीदी तथा पुलिस प्रशासन की मदद के लिए 200 होमगार्ड प्रदान करने के लिए आवश्यक निधि की मांग पालकमंत्री से की। साथ ही जिले के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में काम करने वाली आशा कार्यकर्ता, आंगणवाड़ी सेविका, पटवारी, पुलिस व राजस्व कर्मचारी जो फिल्ड पर काम करते है, एैसे अधिकारी व कर्मचारियों का समावेश प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अंतर्गत करने की मांग भी पालकमंत्री के समक्ष रखी।


    3877 वाहनो का चालान कटा, 186 पर केस दर्ज
    जिला पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे ने जानकारी देते बताया, जिले में सचारबंदी अवधी के दौरान धारा 144 का कड़ाई से पालन किया जा रहा है। शहर का गणेशनगर इलाका कंटेन्मेंट झोन में आने से यहां पुलिस विभाग का 28 दिनों तक कड़ा बंदोबस्त तैनात किया गया है, 553 नागरिकों को इमर्जन्सी पासेस दिए गए है।

    लॉकडाऊन घोषित होने के साथ ही अब तक अलग-अलग प्रकरणों में 186 केस दर्ज किए गए है। वहीं 3877 वाहन चालकों पर कार्रवाई करते हुए 7 लाख 99 हजार 70 रूपये का दंड वसूले जाने की जानकारी पालकमंत्री को दी गई।

    9 वेंटिलेटर है, 12 की खरीदी प्रक्रिया शुरू
    जिला शल्य चिकित्सक तथा मेडिकल कॉलेज के डीन ने जानकारी देते बताया, जिले में 9 वेटिंलेटर उपलब्ध है और 12 वेटिंलेटर खरीदी की प्रक्रिया शुरू है तथा ट्रिपल लेअर मास्क 64 हजार 850 और एन-95 मास्क 1749 , पीपीई कीट 196 उपलब्ध है इसके साथ ही जिला सामान्य अस्पताल का 4 बेड का रूम स्थापित किया गया है।

    वीडियो क्रान्फेंस के दौरान जिलाधिकारी डॉ. कांदबरी बलकवड़े, जि.प. सीईओ डॉ. राजा दयानिधी, पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे, मेडिकल कॉलेज के प्रभारी अधिष्ठाता डॉ. विनायक रूखमोड़े, जिला शल्य चिकित्सक डॉ. संजीव दोडके, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. श्याम निमगडे, जिला आपूर्ति अधिकारी देवराव वानखेड़े सहित सभी नोडल अधिकारी प्रमुखता से उपस्थित थे।

    रवि आर्य


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145