Published On : Sun, Jan 19th, 2020

गोंदिया: 3000 बेटियों ने आत्म सुरक्षा का हुनर सीखा

20 स्कूलों की छात्राओं को दी गई मार्शल आर्ट की निःशुल्क ट्रेनिंग

Advertisement

गोंदिया. आत्म सुरक्षा हर मनुष्य के लिए जरूरी है विशेष तौर पर बहन- बेटियों को आत्म सुरक्षा की तालीम देना बहुत ही आवश्यक है। कानून कितना ही जोर लगा ले मगर मौके पर करारा जवाब देने के लिए बेटियों को तैयार रहना होगा , स्वयं अपनी सुरक्षा अपने आप को करनी होगी।

Advertisement

इन 10 दिनों की मार्शल आर्ट ट्रेनिंग के कौशल्य ( हुनर ) को अगर हम नियमित प्रैक्टिस में आत्मसात करते हैं तो किसी की हिम्मत नहीं कि कोई हम पर अन्याय कर सके ।

Advertisement

उक्त आशय के न उद्गार उपविभागीय पोलीस अधिकारी गोंदिया जगदीश पांडे ने निर्भय बेटी सुरक्षा अभियान के समापन समारोह अवसर पर अपने अध्यक्षीय संबोधन में व्यक्त करते हुए गोंदिया के 20 स्कूलों की 3000 बेटियों को जूडो- कराटे की ट्रेनिंग देने वाले कोचेस और शानदार आयोजन के लिए आयोजकों को धन्यवाद दिया।

अच्छी सोच को मेरा सैल्यूट- नितिन शिरोडकर

मुख्य अतिथि अदानी फाउंडेशन के नितिन शिरोडकर ने संबोधित करते कहा, आत्म सुरक्षा के ज्ञान के साथ-साथ बेटियों को खूब पढ़ाएं और उन्हें जीवन में आगे बढ़ने का मौका दें , लड़की खुद आत्मनिर्भर हो तो वह ज्यादा सुरक्षित है, समाज में बदलाव शिक्षा से ही संभव हो पाया है।गेम्स , स्पोर्ट्स एवं कैरियर डेवलपमेंट फाउंडेशन जैसे संगठन सेल्फ डिफेंस प्रशिक्षण के क्षेत्र में आगे आ रहे हैं जिससे बदलाव नजर आने लगा है, ऐसी अच्छी सोच को मेरा सैल्यूट है .

बेटों के लिए शुरू करें संस्कार शिविर- चंदन पाटिल

विशेष अतिथि गोंदिया नगर परिषद के मुख्य अधिकारी चंदन पाटिल ने कहा, आत्म सुरक्षा का हुनर हमें सिर्फ शारीरिक तौर पर ही मजबूत नहीं करता बल्कि समय पर लड़ने हेतु आत्मविश्वास की ताकत भी बढ़ाता है। बेटियों को मार्शल आर्ट सिखा कर उन्हें निर्भय बना रहे इस संगठन से मेरा अनुरोध है की बेटों को अनुशासित और संस्कारी बनाने के लिए वह संस्कार शिविर जैसे उपक्रम शुरू करें।

बुराईयों पर हो चारों तरफ से प्रहार -अब्दुल मुशताक

विशेष अतिथि जिला खेल अधिकारी अब्दुल मुशताक ने कहा, बुराइयों पर जब तक चारों तरफ से प्रहार नहीं होगा वे खत्म नहीं होंगी आत्म सुरक्षा जैसे शिविर बेटियों का बेहतर पथ प्रदर्शन करते हैं।

स्कूलों में सेल्फ डिफेंस के सब्जेक्ट की व्यवस्था करें- लोकेश यादव

फाउंडेशन के संरक्षक तथा नगरसेवक लोकेश यादव ने कहा- हमारी संस्था ने गत 3 वर्षों में निर्भय बेटी अभियान के तहत अब तक 9000 बेटियों को आत्म सुरक्षा का प्रशिक्षण दिया है मेरा मुख्य अधिकारी और जिला क्रीड़ा अधिकारी से अनुरोध है कि जिले की सभी नगर परिषद , जिला परिषद और प्राइवेट स्कूलों में एक सब्जेक्ट सेल्फ डिफेंस का अनिवार्य होना चाहिए ऐसी व्यवस्था करें।

मंचासीन विशेष अतिथि पत्रकार – रवि आर्य , एड. अनिता दास , मानव अधिकार संगठन की धर्मिष्ठा सेंगर , प्रोग्रेसिव स्कूल के डायरेक्टर नीरज कटकवार , स्टार अकैडमी की रेनू जयपुरिया , शहर थाना प्रभारी बबनराव आव्हाड आदि ने समायोचित विचार व्यक्त किए , मंचासीन अतिथियों , प्रशिक्षण देने वाले कोचेस , बेहतर प्रदर्शन करने वाली छात्राओं तथा स्कूल प्रिंसिपलस को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। प्रोजेक्ट डायरेक्टर दीपक सिक्का , सचिव विशाल ठाकुर ने भी अपना मनोगत व्यक्त किया , कार्यक्रम का संचालन मुजीब शेख तथा अंत में आभार चेतन मानकर ने माना।

आत्मरक्षा के प्रत्यक्ष प्रयोग दिखाए

महिला उत्पीड़न जैसी घटनाओं से निपटने हेतु किस प्रकार सतर्कता बरती जाए इस बात का प्रत्यक्ष प्रयोग प्रशिक्षण प्राप्त 3000 छात्रों ने स्टेडियम में एयर बेक , काता , हाई किक पंच , लाठी चलाना , सुलगती आग के बीच डेमो ईंट तोड़ना , सैल्फ डिफेंस द्वारा अपनी सहेली को बचाना आदि हैरतअंगेज करतब पेश कर वाहावाही बटोरी ।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement