Published On : Thu, Feb 11th, 2021

Video गोंदिया:सिरफिरे का आतंक , कारों में लगाई आग

बदमाशों की पहचान के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुटी पुलिस

गोंदिया शहर के श्रीनगर इलाके में चंद्रशेखर वार्ड के हरी काशीनगर और गौतम बुद्ध वार्ड के भीम नगर ग्राउंड क्षेत्र निकट में घरों के बाहर खड़ी कार और मालवाहक को देर रात किन्हीं अज्ञात असामाजिक तत्वों ने आग के हवाले कर दिया। वाहनों में लगी आग की लपटें उठती देख कर आस-पड़ोस के लोगों ने पीड़ित परिवार को सूचना दी ।वाहन जलाने वाले सिरफिरों की पहचान करने के लिए आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालने के प्रयास पुलिस द्वारा किए जा रहे हैं। दमकल विभाग अधिकारी ने जानकारी देते बताया-वारदात 11 फरवरी गुरुवार मध्य रात्रि ढ़ाई बजे के आसपास घटित हुई।

एसीबी (एंटी करप्शन ) विभाग में कार्यरत पुलिसकर्मी विजय खोबरागड़े के हरी काशी नगर स्थित मकान के मुख्य दरवाजे के निकट सड़क किनारे गली में खड़ी हुंडई ऑरा मॉडल की कार क्रमांक MH 35 / AG-8309 के कांच फोड़ कर किसी अज्ञात शरारती तत्व कार में आग लगा दी।

फायर स्टेशन को घटना की सूचना इलाके की पार्षदा के पति नगरसेवक पंकज यादव ने फोन द्वारा दी।दमकल विभाग की टीम तत्काल मौके पर पहुंची और कार में लगी आग पर केमिकल फोम और पानी का छिड़काव कर करीब आधे घंटे में काबू पाया गया ।इस आगजनी में कार का इंजन , टायर , भीतर की सीट , स्टेरिंग और कार की भीतरी फाइबर बॉडी जलने से लगभग पूरी कार क्षतिग्रस्त हो चुकी है , बताया जाता है कि यह 8 लाख रुपए की कार गाड़ी मालिक द्वारा जून 2020 में खरीदी गई थी।

वाहन के शीशे तोड़ने और मालवाहक में आग लगाने की दूसरी घटना हरि काशीनगर के संस्कार कान्वेंट स्कूल से 200 मीटर की दूरी पर मध्य रात्रि 2:35 बजे भीम नगर ग्राउंड निकट घटित हुई।

किन्हीं अज्ञात बदमाशों ने फरियादी सुधीर कोल्हाटकर के घर के बाहर खड़े सोफासेट लदे टाटा एस मालवाहक क्रमांक MH 35 /AJ-0405 में आग लगा दी , इस आगजनी में मालवाहक के पीछे का हिस्सा तथा मालवाहक में लदा सोफा सेट (फर्नीचर ) एवं गाड़ी के टायर पूरी तरह जल गए सूचना पर मौके पर पहुंचे दमकल विभाग की फायर गाड़ी ने आग पर काबू पाया।

बताया जाता है कि इस इलाके में माता मंदिर निकट इसी तरह से वाहनों को आग लगाने का असफल प्रयास किया गया।
इन घटनाओं के बाद लोगों में आक्रोश व्याप्त हैं तथा शरारती तत्वों को पकड़ने की मांग करते हुए ऐसी आगजनी की घटनाओं की पुनरावृति दोबारा ना हो इसके लिए सरफिरे तत्वों के खिलाफ कड़ी पुलिस कार्रवाई किए जाने की मांग की जा रही है।

गौरतलब है कि गत वर्ष भी शहर के अन्य इलाकों से इसी तरह की घटनाएं सामने आ चुकी है।

मामले की गुत्थी सुलझाने और सिरफिरे शख्स की धरपकड़ करने के लिए पुलिस सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगालने के प्रयास में जुटी है।
वाहनों में लगी आग पर काबू पाने हेतु गोंदिया नगर परिषद फायर स्टेशन के प्रभारी अधिकारी लोकचंद भंडारकर के नेतृत्व में सहायक कर्मचारी बबली ठाकुर , रंजीत रहांगडाले , ढोमने ,अंश चौरसिया , ओमप्रकाश यादव आदि ने मशक्कत की।

-रवि आर्य