Published On : Tue, Apr 13th, 2021

गोंदिया: झूलेलाल जयंती , सद्भावना एकता व भाईचारे का प्रतीक

चेट्रीचंड् उत्सव सादगी पूर्ण मनाया जा रहा , बहेराणा साहेब का रथ निकला

गोंदिया भगवान झूलेलालजी जयंती के पावन अवसर पर गोंदिया में आज मंगलवार 13 अप्रैल सुबह 10 बजे वरुण अवतार इष्ट देव झूलेलालजी की अखंड दिव्य ज्योति , प्रेम प्रकाश आश्रम परिसर में पूरी श्रद्धा और उमंग के साथ प्रज्वलित की गई।

इस अवसर पर साईं टेऊंराम आश्रम के संत लक्की साईं महाराज , सिंधी नवयुवक सेवा मंडल के अध्यक्ष राजेश शिवलानी , पूज्य सिंधी जनरल पंचायत के अध्यक्ष राजनदास वाधवानी , पूर्व अध्यक्ष -महेश आहूजा , मनोहर आसवानी , श्रीनगर सिंधी पंचायत के अध्यक्ष राम लालवानी , माताटोली सिंधी पंचायत अध्यक्ष किशोर तलरेजा व गणमान्य- नारी चंदवानी ,परसराम चांदवानी , तोलाराम मानकानी , प्रीतम डोडानी , देव नागदेव , सोनू नागदेव , हरीश वेडवानी , लक्ष्मण तोलानी की उपस्थिति में विधिवत पूजा- अर्चना पश्चात अखंड ज्योति के पालकी को फूलों से सजे बहेराणा साहब के रथ में विराजमान किया गया तथा रथ में झूलेलालजी की प्रतिमा विराजित थी ।

बहेराणा साहब का रथ शंकर चौक (सिंधी कॉलोनी ) होते हुए सिंधी मनिहारी धर्मशाला भवन पहुंचा जहां रथ का स्वागत पुष्प वर्षा से किया गया।

सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखकर श्रद्धालु कर रहे अखंड दिव्य ज्योति के दर्शन वरुण देवता इष्टदेव झूलेलाल जी के अखंड दिव्य ज्योति के दर्शनों हेतु महिला , बुजुर्ग ,बच्चे , युवा पधार रहे हैं तथा शीष झुकाकर इष्ट देव प्रभु झूलेलालजी का आशीर्वाद ग्रहण कर रहे हैं ।

सुबह 11 से शाम 5 बजे तक श्रद्धालुओं के दर्शनों का सिलसिला सोशल डिस्टेंसिंग , मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था के साथ जारी रहेगा।

गौरतलब है कि पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी भारत सहित पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लेकर त्रासदी फैला रहे कोविड के चलते राज्य में लॉकडाउन के हालात बने हुए हैं , इस संक्रमण की रोकथाम हेतु महाराष्ट्र सरकार और जिला प्रशासन ने प्रत्येक उत्सव , धार्मिक रैली और जलसे से पर प्रतिबंध लगाते हुए भीड़ इकट्ठा ना करने के दिशा निर्देश जारी किए हैं।

जिला प्रशासन के आदेशों और अधिसूचना का सम्मान एवं पालन करते हुए झूलेलाल जयंती को किसी भी बड़े उत्सव के रूप में न मनाते हुए सिंधी समुदाय ने अपने-अपने घरों में रहकर ही सादगीपूर्ण तरीके से पर्व मनाने का निश्चय किया है साथ ही इस संकट की घड़ी में इष्ट देव प्रभु साईं झूलेलाल जी के चरणों में विश्व कल्याण की अरदास-पल्लव और प्रार्थना करते हुए इस महामारी के दौर को जल्द समाप्त कर एक नई सुबह आए , ऐसी कामना श्रद्धालु भक्त गणों द्वारा व्यक्त की जा रही है।

अखंड दिव्य पंच महाज्योति का विसर्जन आज मंगलवार शाम 5 बजे के पश्चात विधिवत पूजा अर्चना के साथ सुख , शांति , समृद्धि व खुशहाली की कामना करते हुए स्थानीय गोविंदपुर जलाशय पर पल्लव आरती के साथ किया जाएगा।

रवि आर्य