Published On : Fri, May 21st, 2021

गोंदिया: होटल में मिला , 2 स्कूलों से चुराया गया शैक्षणिक इलेक्ट्रॉनिक साहित्य

4 शातिर चोरों ने दिया वारदात को अंजाम , पुलिस ने किया पर्दाफाश

गोंदिया। डिजिटल इंडिया अभियान के तहत छात्र-छात्राओं के अध्ययन हेतु शासकीय शैक्षणिक संस्थाओं को सशक्त बनाने के लिए सरकार गोंदिया जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के जिला परिषद स्कूलों को इलेक्ट्रॉनिक शैक्षणिक साहित्य उपलब्ध करा रही है ताकि इसका फायदा यहां पढ़ने वाले गरीब विद्यार्थियों को हो ,किंतु बंद स्कूलों के ताले तोड़कर इन इलेक्ट्रॉनिक शैक्षणिक साहित्य के चोरी जाने की खबरें गोंदिया जिले में आम हो चली है , ऐसी ही दो चोरियों का पर्दाफाश करते हुए लोकल क्राइम ब्रांच पुलिस टीम ने आमगांव थाना क्षेत्र के कुम्भारटोली स्थित एक होटल पर दबिश देते हुए तलाशी के दौरान होटल के कमरे से स्कूलों से चुराया गया इलेक्ट्रॉनिक साहित्य बरामद करते वारदातों को अंजाम देने वाले 4 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है ,पकड़े गए आरोपियों में एक विधि संघर्ष किशोर भी शामिल है।

वाक्या कुछ यूं है कि..?
जिले में चोरी, लूट, डकैती जैसे बढ़ते अपराधों पर अंकुश लगाने तथा शातिर अपराधियों की धरपकड़ हेतु जिला पुलिस अधीक्षक विश्‍व पानसरे ने स्थानिक अपराध शाखा सहित समस्त थाना प्रभारियों को मुस्तैद रहने के निर्देश जारी किए हुए है।

वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश का पालन करते हुए गुरुवार 20 मई को स्थानिक अपराध शाखा दल की ओर से शासकीय व निजी वाहन से आमगांव थाना सरहद में गश्त की जा रही थी, इसी दौरान एलसीबी टीम को यह पुख्ता जानकारी मिली कि, एक स्कूल में चोरी की वारदात को अंजाम देने के बाद उक्त चोरी का माल आरोपी की ओर से स्वंय के होटल में छुपाकर रखा गया है।

सूचना के आधार पर स्थानिक अपराध शाखा टीम आमगांव थाना क्षेत्र के कुंभारटोली स्थित बंद धिती नामक होटल में दबिश देने पहुंची, होटल की सीढ़ियों पर राजकुमार नामक युवक बैठा हुआ था तथा उक्त होटल उसी के मालकीयत की है, पुलिस टीम ने होटल की तलाशी शुरू की तो भीतर के एक कमरे से सैमसंग कम्पनी की 1 एलएफडी टीवी, लकड़ी के 2 कैरम बोर्ड, डेल कम्पनी का एक कम्प्यूटर मॉनीटर, ईनटेक्स फ्लेम कम्पनी का एक कम्प्यूटर सीपीयु, जैक मार्टिन कम्पनी का म्युजीक सिस्टम इस तरह कुल 48 हजार का माल बरामद किया गया।

पूछताछ के दौरान जब्त माल के संदर्भ में उक्त आरोपी ने जानकारी देते बताया कि, उसने अपने साथीदार- सुरेश राऊत (31) , राजकुमार गोपीचंद मरकाम (22) तथा एक विधि संघर्ष किशोर के साथ मिलकर अक्टूबर 2020 व मार्च 2021 में 2 स्कूलों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था।

पुलिस के मुताबिक इनमें से पहली घटना को अंजाम जिला परिषद कनिष्ठ महाविद्यालय रिसामा में 29 अक्टूबर 2020 से 2 नवंबर के दरमियान देकर लगभग 38 हजार का साहित्य उड़ाया गया था, इस संदर्भ में आमगांव थाने में अं.क्र. 297/2020 की धारा 461, 380 का मामला भी दर्ज है तथा दूसरी वारदात में 9 से 10 मार्च के दौरान आमगांव तहसील के ग्राम कुंभारटोली (रिसामा) स्थित जि.प. हाईस्कूल का ताला तोड़कर एक एलईडी, कैरम बोर्ड व अन्य सामग्री उड़ायी गई थी , इस संदर्भ में अ.क्र. 70/2021 के भादंवि 461, 380 का जुर्म आमगांव थाने में दर्ज होने की पुष्टि हुई है।

बहरहाल पकड़े गए आरोपी राजकुमार की निशानदेही के बाद अन्य तीन आरोपियों को भी कुंभारटोली परिसर से हिरासत में ले लिया गया है, प्रकरण के आगे की जांच पड़ताल में आमगांव पुलिस जुटी है।

उक्त कार्रवाई जिला पुलिस अधीक्षक विश्‍व पानसरे, अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर के मार्गदर्शन तथा एलसीबी निरीक्षक बबन अव्हाड़ के नेतृत्व में पुलिस उपनि. अभयसिंह शिंदे, पो.ह. राजेश बड़े, अर्जुन कावड़े, पो. ना. विठ्ठलप्रसाद ठाकरे, चेतन पटले, नेवालाल भेलावे, पंकज करवड़े की ओर से की गई।

रवि आर्य