Published On : Sat, Aug 31st, 2019

गोंदियाः खेत में किसान का मर्डर

Advertisement

फसल चरने हेतु मवेशी खेत में छोड़ देने पर हुआ विवाद

गोंदिया: जिले के नक्सल प्रभावित सालेकसा तहसील के अतिदुर्गम क्षेत्र ग्राम कुलरभटी में 29 अगस्त के शाम 4.30 बजे दो पड़ोसी खेत मालिकों के बीच मवेशी छोड़ दिए जाने की बात को लेकर इस कदर विवाद छिड़ा कि, एक ने दूजे के गाल पर 3-4 थप्पड़ जड़ दिए। बात हाथापाई तक पहुंच गई, जान के मारने के उद्देश्य से आरोपी जीवन कुंभरे (60) ने राजु भाटिया (37) के बाल पकड़ लिए और उसका सिर पास पड़े नुकीले पत्थर पर जोर से दे मारा जिससे राजु का सिर फट गया और उसके कनपट पर गंभीर चोट लगने और अत्याधिक रक्तस्त्राव होने पर उसकी मृत्यु हो गई।

Advertisement
Advertisement

पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारीनुसार मृतक और आरोपी के खेत आस-पास में लगे हुए है, आरोपी अकसर अपने पालतु जानवर खुले में छोड़ दिया करता था जिससे आसपास के किसानों की फसलों को नुकसान पहुंच रहा था।

मृतक राजु यह 29 अगस्त शाम 4 बजे अपने खेत में मौजुद था इसी दौरान उसने आरोपी से कहा- तेरे मवेशी तू तेरे खेत में चरा ले, हमारे खेत में लेकर मत आ? बकरियों का झूंड खेत में छोड़ देने की बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ तो 3-4 थप्पड़ उसके गाल पर रसीद कर दिया।
धक्का-मुक्की में भाटिया असंतुलित होकर गिर पड़ा जिसपर आरोपी ने झपटकर उसका सिर पकड़ लिया और पास के पत्थर पर जोर से दे मारा, कनपट पर चोट लगी और अत्याधिक रक्तस्त्राव की वजह से राजु की मृत्यु हो गई। पुलिस के मुताबिक प्रारंभिक जांच में दोनों के बीच पुरानी कोई दुश्मनी या रंजिश की बात अभी सामने नहीं आयी है।

इस प्रकरण के संदर्भ में सालेकसा पुलिस ने फिर्यादी दिनेश जोगीराम अडमे (35 रा. कुलरभटी) की शिकायत पर 30 अगस्त को आरोपी जीवन कुंभरे के खिलाफ धारा 302 हत्या का जुर्म दर्ज कर उसे देर रात हिरासत में ले लिया है। आरोपी को उसे आज अदालत में पेश कर पुलिस उसकी रिमांड मांगने की तैयारी में जुटी है। मामले की जांच थाना प्रभारी राजकुमार डुणगे के मार्गदर्शन पोउपनि धनवे कर रहे है।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement