Published On : Tue, Sep 21st, 2021

गोंदिया: फोटो स्टूडियो के आड़ में रेलवे ई-टिकट की कालाबाजारी

13 ई-टिकट और लैपटॉप के साथ दलाल को रेलवे पुलिस ने दबोचा

गोंदिया। भारतीय रेलवे यह देश का एक बड़ा रेल नेटवर्क है। हजारों यात्री प्रतिदिन ट्रेन से सफर करते है, यात्रियों को सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए काऊंटर पर लाइन में खड़े बगैर यात्री ऑनलाइन द्वारा आसानी से टिकट बुक कर सकते है, लेकिन इस सुविधा का अपने फायदे के लिए लाभ उठाते हुए कुछ सक्रिय दलाल ई-टिकिटों के अवैध व्यापार में जुटे है।

एैसे ही एक दलाल को आरपीएफ, क्राईम ब्रांच गोंदिया ने 21 सितंबर को गोपनीय जानकारी मिलने पर धरदबोचा।

अपराध गुप्तचर शाखा रेसुब गोंदिया के निरीक्षक अनिल पाटिल एंव उपनिरीक्षक के.के. दुबे, सउपनि एस.एस. ढोके की टीम को गुप्तचर से जिले के सड़क अर्जुनी तहसील के डुग्गीपार थाना क्षेत्र के ग्राम डव्वा स्थित एक फोटो स्टूडियो की आड़ में ई-टिकिट बुकिंग का काला कारोबार किए जाने की जानकारी मिली जिसपर पुलिस टीम मंगलवार 21 सितंबर को उक्त स्टुडियो में पहुंची और दुकान में मौजुद लैपटॉप की तलाशी ली तो संचालक सुनीलकुमार के नाम से एक फर्जी पर्सनल आईडी पायी गई जिसके माध्यम से आरोपी यह रेलवे आरक्षित ई-टिकिट बनाने का अवैध व्यवसाय कर रहा था और इसके ऐवज में वह यात्रा की दूरी के हिसाब से किराया राशि के अतिरिक्त 100 से 200 रूपये प्रति टिकट वसूलता था।

तलाशी में उसके द्वारा बनाई गई 13 नग ई-टिकिट बरामद की गई जिनका मूल्य 15,221 रूपये आंका गया है।

मामला रेलवे टिकिट के अवैध कारोबार का होने पर आरोपी के खिलाफ अ.क्र. 755/2021 की धारा 143 रेल अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया गया है तथा कल 22 सितंबर को उसे नागपुर न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा।

रवि आर्य